किसी को नहीं मिलेगा रास्ता, 150 स्थानों पर आंदोलनकारी लगाएंगे जाम

प्रशासन ने कानून व्यवस्था संभालने को 24 ड्यूटी मजिस्ट्रेट 24 पुलिस अफसर और 10 रिजर्व में अफसर किए तैनात।

JagranMon, 27 Sep 2021 06:14 AM (IST)
किसी को नहीं मिलेगा रास्ता, 150 स्थानों पर आंदोलनकारी लगाएंगे जाम

- प्रशासन ने कानून व्यवस्था संभालने को 24 ड्यूटी मजिस्ट्रेट 24 पुलिस अफसर और 10 रिजर्व में अफसरों की ड्यूटी लगाई

- चार स्थानों पर रोकी जाएगी रेल, गांव-गांव से लोगों को बुलाने की लगाई है जिम्मेदारी जागरण संवाददाता, हिसार।

आंदोलनकारी किसानों ने सोमवार को भारत बंद का आहवान किया है। इसको लेकर रविवार सायं को पूरी रणनीति बना ली गई है। आंदोलनकारी किसानों ने तय है कि इमरजेंसी वाहनों, प्रसूता, बीमार बुर्जुगों के वाहन, सेना के जवानों के वाहन को छोड़कर किसी को भी नहीं निकलने दिया जाएगा। यानि आंदोलनकारी किसान स्कूल और कालेजों तक के वाहनों को भी निकलने की अनुमति नहीं रहेगी। ऐसे में विद्यार्थियों के सोमवार को घर पर रहने में ही भलाई है। ऐसी स्थिति को देखते हुए स्कूलों ने भी अपनी छुट्टी कर दी है। आंदोलनकारी नेता शमशेर नंबरदार ने बताया कि वह व उनके साथी 150 स्थानों पर सड़क मार्ग अवरुद्ध करेंगे। जिसमें जिला के चारों मुख्य टोलों पर टोल कमेटियां जिम्मेदारी संभालती नजर आएंगी। इसके साथ ही गांव के छोटे रास्ते, लिक रोड, नेशनल हाइवे, स्टेट हाइवे तक को नहीं छोड़ा जाएगा। सभी को सुबह छह बजे से सायं चार बजे तक बंद किया जाएगा। इस दौरान किसान सरकार विरोधी नारे लगाएंगे और तीन कृषि कानून रद्द करने की मांग उठाएंगे। इसके साथ ही आंदोलनकारी नेता राजगढ़ रेल लाइन देवा मुकलान, बठिउा डबवाली लाइन के लिए आदमपुर, लुधियाना रेल लाइन के लिए बरवाला और दिल्ली रोहतक लाइन पर रमायण पर आंदोलनकारी किसान रेल रोकने के लिए पटरी पर बैठेंगे।

प्रशासन की तैयारी- 24 ड्यूटी मजिस्ट्रेट रहेंगे तैनात

आंदोलनकारी किसान और प्रशासन की दो दिन पूर्व बैठक हुई थी। जिसमें किसानों ने बंद करने की मांग उठाई थी। इसको लेकर किसानों ने साफ कर दिया था कि वह शांतिपूर्ण ढंग से विरोध करेंगे। इस मामले को लेकर प्रशासन ने रविवार को ड्यूटी मजिस्ट्रेटों को अलग-अलग क्षेत्रों में जिम्मेदारियां दी है। जिसमें 24 ड्यूटी मजिस्ट्रेट हिसार और हांसी में तैनात रहेंगे। इसके साथ ही 10 अधिकारियों को रिजर्व में रखा गया है।

पुलिस के प्रबंध- हर डीएसपी के साथ रहेगी फोर्स

भारत बंद के आहवान को लेकर पुलिस ने भी अपनी तरफ से तैयारियां की हैं। जिसमें प्रत्येक डीएसपी के साथ पुलिस फोर्स मौजूद रहेगा। हिसार में आरएएफ की दो कंपनियां भी तैनात रहेंगी। वहीं सदर थाने में डीएसपी अभिमन्यु लोहान के नेतृत्व में एक कंपनी रहेगी, आजाद नगर में डीएसपी जोगेन्द्र शर्मा के नेतृत्व में एक कंपनी, बरवाला में एक कंपनी, अग्रोहा थाने में एक कंपनी रहेगी। वहीं हिसार में डीएसपी भारती डबास मोर्चा संभालेंगी।

कर्मचारी बंद कर सकते हैं काम-काज

आंदोलन को कर्मचारियों के संगठनों ने भी समर्थन किया है, ऐसे में केंद्रीय और राज्य स्तरीय सरकारी कार्यालयों में कर्मचारी हड़ताल पर जा सकते हैं। इसको लेकर चर्चा भी चल रही है। इसका असर लघु सचिवालय में भी देखने को मिल सकता है। इसके साथ ही रोडवेज बसें भी बंद रह सकती हैं। क्योंकि किसानों के रोड बंद करने के बाद यातायात पूरी तरह से ठप पड़ने की उम्मीद है। रोडवेज के अधिकारियों का कहना है कि वह स्थिति देखकर निर्णय लेंगे।

उपद्रव न हो इसके लिए बनाई कमेटियां

आंदोलनकारी नेताओं ने हर स्थान पर विरोध करने वाले लोगों के साथ अपने कुछ लोगों की जिम्मेदारियां लगाई हैं। आंदोलनकारी उपद्रव न करें इसके लिए बुर्जुगों और युवाओं को निगरानी रखने के निर्देश दिए गए हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.