हिसार में दो कराेड़ की लागत से बने पटेल नगर आरयूबी में पानी निकासी नहीं, बारिश के पानी से बना तालाब

बरसात आई तो आरयूबी निर्माण में इंजीनियरों की योग्यता का सच जनता के सामने आ गया है। क्षेत्रवासियों की माने तो इंजीनियरों ने आरयूबी में बारिश के पानी निकासी का कोई उचित प्रबंध ही नहीं किया। हल्की सी बरसात में भी पटेल नगर की आरयूबी में जलभराव हो जाता है।

Manoj KumarFri, 24 Sep 2021 09:01 AM (IST)
बारिश के बाद पटेल नगर के आरयूबी में भरा पानी और तालाब जैसे बने हालात

जागरण संवाददाता, हिसार : प्रदेश सरकार ने जनता की सहुलियत के लिए दो करोड़ से अधिक राशि खर्च कर पटेल नगर में रेलवे अंडर ब्रिज (आरयूबी) का निर्माण करवाया। जनता को लगा कि यह निर्माण उन्हें सहुलियत देगा। हुआ भी ऐसा ही। आरयूबी जनता के लिए काफी उपयोगी रहा, लेकिन जैसे ही बरसात आई तो आरयूबी निर्माण में इंजीनियरों की योग्यता का सच जनता के सामने आ गया है। क्षेत्रवासियों की माने तो इंजीनियरों ने आरयूबी में बारिश के पानी निकासी का कोई उचित प्रबंध ही नहीं किया। यहीं कारण है कि हल्की सी बरसात में भी पटेल नगर की आरयूबी में जलभराव हो जाता है। अब तो आरयूबी में जलभराव के कारण दरारें तक आने लगी है। ऐसे में जनता का पैदा अब बेहतर जलनिकासी नहीं होने से बर्बाद होने लग रहा है।

खतरे के निशान से ऊपर पहुंचा पानी, रातभर निगम की टीम करती रही जलनिकासी

जलनिकासी बेहतर व्यवस्था नहीं होने के कारण शहर में बुधवार से हो रही बरसात के कारण पटेल नगर आरयूबी में जलभराव खतरे के निशान को पार कर गया। मामला निगम के संज्ञान में आते ही नगर निगम ने अपनी टीम भेजकर वहां पानी निकासी का प्रबंध करवाया। दिनरात निगम के कर्मचारी वहां पर पैंपसैट चलाकर पानी निकासी करवा रहे है। क्षेत्रवासी सतीश श्योराण ने कहा कि रेलवे की आरयूबी को लेकर प्लानिंग बेहतर नहीं होने का ही यह नतीजा है कि यहां बड़े स्तर पर जलभराव हो रहा है। आज हालात ये है कि निगम को जलनिकासी के लिए पैंपसैट लगाना पड़ रहा है।

ये भी जानें :

1. बीआर अंबेडकर सभा ने 1989 में पटेल नगर आरयूबी पर फाटक की मांग की थी। क्योंकि यहां सेलोगों की आवाजाही बड़े स्तर पर रहती थी। बाद में मामला आगे बढ़ा तो फाटक की जगह लोगों ने यहां आरयूबी की मांग की। जनता की मांग पर प्रदेश मुख्यमंत्री ने यहां आरयूबी को हरी झंड़ी दी और दो करोड़ से अधिक की राशि से आरयूबी बना।

2. हिसार सदलपुर ट्रैक पर हिसार स्टेशन से करीब 3.050 किमी की दूरी पर यह आरयूबी बना है।

इस आरयूबी से इन क्षेत्रवासियों को बड़े स्तर पर हो रहा लाभ

पटेल नगर, सेक्टर 16-17, सेक्टर-13, जवाहर नगर, डिफेंस कालोनी, पीएलए, सेक्टर 9-11, इंडस्ट्रियल एरिया सहित साउथ बाइपास से सटी कालोनिया एवं सेक्टर वासियों को इस क्षेत्र से बड़े स्तर पर लाभ हो रहा है।

---जलभराव की जानकारी मिलते ही निगम टीम ने वहां पर पैंपसैट लगा दिया है। जो दिनरात चल रहा है। पैंपसैट के माध्यम से आरयूबी से जलनिकासी करवाई जा रही है।

- रामदिया शर्मा, जेई, नगर निगम हिसार।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.