किसान आंदोलन : ट्रैक्टर परेड के लिए दिल्ली पुलिस को किसानाें की रणनीति का इंतजार, तैनात किए सुरक्षा बल

हरियाणा और पंजाब से ज्यादा से ज्यादा महिलाओं के आंदोलन स्थल पर पहुंचने का आह्वान किया गया है।

आंदोलन के बीच दिल्ली में परेड के लिए किसान अपनी रणनीति बना रहे हैं। इस बीच रोहतक से टीकरी बॉर्डर तक किसानों की मानव श्रृंखला बनाने का भी एक दिन पहले मंच से ऐलान किया गया। सोमवार को आंदोलन स्थल पर महिला किसान दिवस मनाया जाएगा।

Publish Date:Sun, 17 Jan 2021 11:46 AM (IST) Author: Manoj Kumar

बहादुरगढ़, जेएनएन। तीन कृषि कानूनों को रद करवाने की मांग को लेकर चल रहे आंदोलन के बीच दिल्ली में परेड के लिए किसान अपनी रणनीति बना रहे हैं। इस बीच रोहतक से टीकरी बॉर्डर तक किसानों की मानव श्रृंखला बनाने का भी एक दिन पहले मंच से ऐलान किया गया। सोमवार को आंदोलन स्थल पर महिला किसान दिवस मनाया जाएगा। इसको लेकर भी तैयारी चल रही है। इस दिन हरियाणा और पंजाब से ज्यादा से ज्यादा महिलाओं के आंदोलन स्थल पर पहुंचने का आह्वान किया गया है।

ट्रैक्टर-ट्रालियों और दूसरे वाहनों में सवार होकर महिलाएं यहां पहुंचेंगी। बहादुरगढ़ में टीकरी बॉर्डर से लेकर बाइपास पर 15 किलोमीटर तक फैले आंदोलन के बीच कई जगहों पर महिलाओं के ठहरने की व्यवस्था भी की गई है। सोमवार को महिलाएं क्रमिक भूख हड़ताल में शामिल होंगी और मंच को भी संभालेंगी।

हालांकि अब तक आंदोलन के बीच 24 घंटे की क्रमिक भूख हड़ताल में कई बार महिलाएं बैठ चुकी है, लेकिन सोमवार को यह आंदोलन महिला किसानों के नाम ही होगा। 19 जनवरी को सरकार से किसानों की फिर से वार्ता होनी है। ऐसे में पंजाब के किसान संगठनों की ओर से आगामी 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में की जाने वाली परेड को लेकर 20 जनवरी के आसपास रणनीति का खुलासा किया जाएगा।

किसान परेड को लेकर दिल्ली पुलिस अलर्ट

किसानों ने 26 जनवरी को दिल्ली में ट्रैक्टरों पर सवार होकर परेड निकालने का ऐलान कर रखा है, इसको लेकर दिल्ली पुलिस अलर्ट है। भारी संख्या में सुरक्षा बल भी तैनात किए जा रहे हैं। दिल्ली के सभी मार्गाें पर पुलिस द्वारा निगरानी रखी जा रही है। जब किसान अपनी रणनीति का खुलासा करेंगे, उसके बाद पुलिस अपनी सुरक्षा व्यवस्था को और मजबूत करेगी।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.