साइकिल रैली के जरिए महिला सुरक्षा के प्रति जागरूकता का संदेश, हिसार पहुंची जागृति यात्रा

पुलिस महानिदेशक हरियाणा प्रशांत कुमार अग्रवाल द्वारा ‘जागृति यात्रा‘ 15 नवंबर को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया था। एसीपी पंचकूला ममता सौदा के नेतृत्व में इस साइकिल रैली में शामिल सिपाही से लेकर इंस्पैक्टर रैंक तक की 16 पुलिस महिला साइकिलिस्ट शामिल है।

Rajesh KumarSat, 04 Dec 2021 08:49 AM (IST)
हिसार पहुंची 'जागृति यात्रा' साइकिल रैली का स्वागत करती पुलिस टीम।

जागरण संवाददाता, हिसार। हरियाणा में महिला सुरक्षा और सशक्तिकरण के बारे में सामाजिक जागरूकता बढ़ाने के लिए हरियाणा पुलिस द्वारा शुरू की गई साइकिल रैली 'जागृति यात्रा'  हिसार पहुंचीं। पुलिस जिला हांसी में रामायण टोल पर आगमन हुआ। पुलिस महानिदेशक, हरियाणा प्रशांत कुमार अग्रवाल द्वारा ‘जागृति यात्रा‘ 15 नवंबर को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया था। एसीपी पंचकूला ममता सौदा के नेतृत्व में इस साइकिल रैली में शामिल सिपाही से लेकर इंस्पैक्टर रैंक तक की 16 पुलिस महिला साइकिलिस्ट शामिल है। टीम 25 दिनों में 23 जिलों के शहर और गांव के क्षेत्रों को कवर करते हुए 1194 किलोमीटर का सफर तय करेंगी। इस पहल का उद्देश्य महिलाओं और लड़कियों को उनके अधिकारों के बारे में जागरूक करके और महिलाओं की सुरक्षा में पुलिस सहित विभिन्न एजेंसियों की भूमिका के बारे में शिक्षित करके महिला सुरक्षा को बढ़ावा देना है।

महिला साइकिलिस्ट का स्वागत

डीआईजी बलवान सिंह राणा के निर्देशानुसार उपपुलिस अधीक्षक राजबीर सैनी, थाना सदर हिसार निरीक्षक कप्तान सिंह, प्रबंधक थाना महिला निरीक्षक सुनीता, थाना प्रभारी शहर निरीक्षक प्रह्लाद राय  और स्थानीय लोगों द्वारा  निरीक्षक माया देवी के नेतृत्व में इस यात्रा में भाग ले रही 15 पुलिस महिला साइकिलिस्ट का रामायण टोल प्लाजा पर स्वागत किया गया। 'जागृति यात्रा' के दौरान गवर्मेंट पालीटेक्निक कालेज में आयोजित कार्यक्रम में निरीक्षक माया देवी ने छात्राओं को महिलाओ से संबधिंत अपराधो के बारे में जागरुक करते हुए कहा कि किसी भी अपराध के घटित होने पर पीड़ित के चुप रहने से अपराध और अपराधी का हौंसला दोनों बढ़ते है। हर महिला को पता होना चहिए कि अपराध क्या है औऱ हर अपराध की रिपोर्ट कहां, कैसे करें।

छात्रों और छात्राओं को निरीक्षक माया देवी ने आगे कहा कि समाज को महिलाओं के प्रति मानसिकता बदलने की जरूरत है, मानसिकता बदलने से ही देश तरक्की करेगा। छोटी-छोटी बातों पर फैसला लेना सीखें। जब तक नारी मन और शरीर से मजबूत नहीं होगी, सशक्त होना संभव नहीं। माता-पिता अपने बच्चों को अच्छे संस्कार दें ताकि बच्चे महिलाओं का सम्मान करना सीखें। महिलाओं को अपने अधिकारों की जानकारी होना बहुत जरूरी है, अगर महिलाएं जागरूक होंगी तो किसी प्रकार की अपराधिक घटना की सूचना तुरन्त पुलिस को देंगी तो महिला विरुद्ध अपराधों में कमी आएगी और अपराधियों को सजा भी दिलवाई जा सकेगी। 

हरियाणा पुलिस सदैव आपके साथ

उप पुलिस अधीक्षक राजबीर सैनी ने कार्यक्रम में उपस्थित अध्यापकों, विद्यार्थियों का अभिवादन किया और  छात्राओं को महिला विरुद्ध अपराधों के बारे में बताते हुए जागरूक किया। उन्होंने कहा कि हरियाणा पुलिस सदैव उनके साथ है। पुलिस द्वारा महिला अधिकारों, कर्तव्यों  हरियाणा पुलिस द्वारा की महिला सुरक्षा सेवाएं जैसे दुर्गा शक्ति मोबाइल एप, महिला हेल्पलाइन नंबर 1091, आपातकालीन नंबर 112, बाल सहायता नंबर 1098, सीडब्ल्यूसी की महत्वता तथा साथ ही प्रत्येक जिले में महिला पुलिस थाना, महिला हेल्प डेस्क आदि के बारे में भी अवगत करवाया। आज के इस कार्यक्रम में डीएवी पुलिस पब्लिक के बच्चों ने नुक्कड़ नाटक कर महिला संबंधित कुरूतियों पर जागरुक किया। इस कार्यक्रम में अशोक कुमार प्रिंसिपल गवर्मेंट पालीटेक्निक कालेज, डाक्टर मीरा कार्डिनेटर, डाक्टर इंदु शर्मा , डीएवी पुलिस पब्लिक स्कूल के  प्रिंसिपल  के साथ गवर्मेंट पालिटेक्निक कालेज के अध्यापकगण और विद्यार्थी शामिल रहे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.