top menutop menutop menu

अभय चौटाला बोले - विश्‍वासघात करके जजपा में जाने वाले लोग आज परेशान हैं, हम जीतेंगे बरोदा चुनाव

हिसार, जेएनएन। इनेलो प्रधान महासचिव अभय सिंह चौटाला ने कहा कि बरोदा उपचुनाव प्रदेश की राजनीति को नई दिशा देने वाला साबित होगा। इस उपचुनाव के बाद भाजपा-जजपा गठबंधन की उल्टी गिनती शुरू हो जाएगी। बरोदा उपचुनाव में मुख्य मुकाबला इनेलो और कांग्रेस के बीच होगा।

उनके कार्यकर्ता तैयार हैं और तिथि घोषित होने का इंतजार है। वह सिरसा रोड स्थित ताऊ देवीलाल सदन में आयोजित जिला स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन में बोल रहे थे। सम्मेलन की अध्यक्षता पार्टी जिलाध्यक्ष सतबीर सिसाय ने की। अभय चौटाला ने कहा कि सत्ता पाने में आने के लिए जिस प्रकार से जजपा नेताओं ने पलटी मारी, उससे उस दल से जुड़े लोग देखते ही रह गए। यही कारण है कि आज उनकी पार्टी के लोग उनसे दूर हो रहे हैं।

जजपा के साथ जाने वाले लालची लोग परेशान

इनेलो प्रधान महासचिव ने कहा कि कुछ स्वार्थी व लालची लोगों के बहकावे में आकर जो साथी जजपा में चले गए थे आज वो सबसे ज्यादा परेशान हैं। वो फिर हमारे साथ आना चाहते हैं। इसलिए उनसे बातचीत करके पूरे सम्मान के साथ शामिल करवाएं।

चौटाला ने कहा कि हमारे कुछ लोग जो स्वार्थी थे, उन्होंने चौधरी ओमप्रकाश चौटाला से विश्वासघात किया और पार्टी को सत्ता से दूर करने में कामयाब रहे। उन्होंने जनता से जो वायदे किए थे उन्हें पूरा करने के बजाय नए माफिया को जन्म दे दिया। शराब माफिया, चिट्टे का नशा के कारोबार जैसे माफिया प्रदेश में इनकी शह पर चल रहे हैं। कांग्रेस राज में भू-माफिया का राज रहा चौटाला ने कहा कि करीब दस साल के कांग्रेस के राज में भू-माफिया का राज रहा।

कांग्रेस ने किसान की जमीन लूट कर किसान को बर्बाद किया और अब भाजपा सरकार किसान की फसल लूट कर किसान को बर्बाद कर रही है। चौटाला कहा कि उनके जनसंपर्क अभियान के बाद प्रदेश में माहौल पूरी तरह से बदला हुआ मिलेगा।

तंवर से चल रही बातचीत

अभय सिंह चौटाला ने अशोक तंवर के इनेलो में शामिल होने पर कहा कि तंवर के साथ बातचीत चल रही है। उनके अलावा कई अन्य दलों के बड़े नेताओं के साथ बातचीत चल रही है जो भाजपा-जजपा गठबंधन और कांग्रेस को सत्ता मे नहीं देखना चाहते। ऐसे सभी लोग जल्द ही इनेलो में शामिल होंगे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.