दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

Hisar coronavirus Update: हिसार में मंगलवार को पहली बार मिले 1248 संक्रमित मरीज, 12 की मौत

हिसार में अप्रैल महीने से पहले के छह महीनों में जितने मरीज मिले उतने केवल मंगलवार को मिले हैं

हिसार में सोमवार को सर्वाधिक 1156 मामले मिले थे। मगर मंगलवार को यह रिकॉर्ड भी टूट गया। वहीं मंगलवार को कोरोना से 12 की मौत भी हुई। कोरोना के कुल मामले बढ़कर अब 33935 हो गए है। वहीं 26014 कोरोना संक्रमित स्वस्थ भी हुए है।

Manoj KumarTue, 04 May 2021 05:13 PM (IST)

हिसार, जेएनएन। हिसार जिले में मंगलवार को कोरोना का कहर फूटा, पिछले वर्ष जहां मार्च से लेकर अगस्त यानि 6 महीने में 1248 मामले मिले थे। वहीं मंगलवार को जिले में एक ही दिन में 1248 मामले मिले। इससे पहले सोमवार को 1156 मामले मिले थे। वहीं मंगलवार को कोरोना से 12 की मौत भी हुई। कोरोना के कुल मामले बढ़कर अब 33935 हो गए है। वहीं 26014 कोरोना संक्रमित स्वस्थ भी हुए है।

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की चिंता इसलिए बढ़ती जा रही है क्योंकि नए मामले मिलने से एक्टिव मामले लगातार बढ़ रहे है। एक्टिव मामले बढ़कर 7411 पर पहुंच गए है। जबकि रिकवरी रेट 75.10 पर पहुंच गया है। वहीं कोरोना मरीजाें का रिकवरी रेट 75.16 फीसद पर है। फरवरी में रिकवरी रेट 98 फीसद था, तब से अब तक लगातार बढ़ते मामलों के चलते 23 फीसद तक गिर चुका है।

राधा स्वामी सत्संग भवन में 60 वर्ष से उपर के कम लक्षण वाले मरीज होंगे दाखिल

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए ज़िला प्रशासन की ओर से लगातार स्वास्थ्य सेवाओं का विस्तार किया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग कोविड के बढ़ते मामलों के चलते बेड की संख्या बढ़ाने पर काम कर रहा है। इसी कड़ी में दिल्ली रोड़ पर स्तिथ राधा स्वामी सत्संग भवन में 100 बेड का कोविड केयर सेंटर स्थापित किया गया है। उपायुक्त डा. प्रियंका सोनी व सीएमओ डा. रत्ना भारती ने कोविड केयर सेंटर का दौरा कर प्रबन्धों का जायज़ा लिया। उन्होंने बताया कि अभी फिलहाल 60 साल से ऊपर के कम लक्षण वाले मरीजों को यहां भर्ती किया जाएगा। कोविड केयर सेंटर में समस्त चिकित्सा सेवाएं व दवाएं स्वाथ्य विभाग द्वारा उपलब्ध करवाई जाएंगी।

डीसी ने ऑक्सीजन उत्पादक इकाईयों का दौरा कर समीक्षा की

उपायुक्त डा. प्रियंका सोनी ने ऑक्सीजन उत्पादक इकाईयों का दौरा कर वर्तमान में उत्पादन क्षमता तथा आपूर्ति को लेकर जरूरी दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि ऑक्सीजन उत्पादक इकाईया क्षमता के अनुरूप उत्पादन जारी रखे और यदि इस कार्य के लिए अतिरिक्त मानव संसाधन की आवश्यकता पड़ती है तो इस संबंध में प्रशासन को अवगत करवाएं। उपायुक्त ने निर्देश दिए कि जिला प्रशासन की ओर से नियुक्त नोडल अधिकारियों के साथ ऑक्सीजन की मांग एवं आपूर्ति कार्य के लिए बेहतर तालमेल रखें।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.