एचएसएससी कैट-2021 के आवेदन के लिए परिवार पहचान-पत्र अनिवार्य : हिसार एडीसी

परिवार पहचान-पत्र योजना को तेज गति से लागू किया जा रहा है।

प्रदेश सरकार द्वारा 39 विभागों की 144 सेवाओं को परिवार पहचान-पत्र आईडी से लिंक कर दिया गया है और जल्द ही 524 सेवाओं को भी परिवार पहचान-पत्र के साथ जोडऩे का कार्य प्रगति पर है। एचएसएससी सीइटी-2021 के आवेदन के लिए परिवार पहचान-पत्र अनिवार्य कर दिया गया है।

Publish Date:Fri, 15 Jan 2021 03:23 PM (IST) Author: Manoj Kumar

हिसार, जेएनएन। हिसार अतिरिक्त उपायुक्त अनीश यादव ने बताया कि जिला प्रशासन द्वारा आमजन की सुविधा के लिए परिवार पहचान-पत्र अपडेटशन कार्य हेतू विशेष शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। विशेष शिविरों के लिए 80 स्थान निर्धारित कर दिए गए हैं। सभी खंडो व नगरपालिका क्षेत्रों के पांच-पांच स्थानों पर 19 जनवरी तक विशेष शिविर लगाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि हरियाणा देश का अग्रणी राज्य है, जहां पर परिवार पहचान-पत्र योजना को तेज गति से लागू किया जा रहा है।

अतिरिक्त उपायुक्त ने सभी खण्ड विकास एवं पंचायत अधिकारी, नगर परिषद तथा नगरपालिका के अधिकारियों को दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि वे अपने-अपने अधीन क्षेत्रों में पांच-पांच स्थानों पर परिवार पहचान-पत्र अपडेशन के लिए शिविरों का आयोजन करें। इस कार्य के लिए ग्राम सचिव, आंगनवाड़ी वर्कर, डिपो-होल्डर तथा सक्षम युवाओं को भी आमजन को प्रेरित करने के दिशा निर्देश दिए गए हैं, ताकि प्रदेश सरकार द्वारा दी जा रही विभिन्न 39 विभागों की सेवाओं लेने में नागरिकों को कोई दिक्कत ना आए।

उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा 39 विभागों की 144 सेवाओं को परिवार पहचान-पत्र आईडी से लिंक कर दिया गया है और जल्द ही 524 सेवाओं को भी परिवार पहचान-पत्र के साथ जोडऩे का कार्य प्रगति पर है। इसी प्रकार हरियाणा कर्मचारी चयन द्वारा भी एचएसएससी सीइटी-2021 के आवेदन के लिए परिवार पहचान-पत्र अनिवार्य कर दिया गया है। इतना ही नहीं लगभग सभी सरकारी योजनाओं का लाभ लेने के लिए परिवार पहचान पत्र होना जरूरी है। इससे सभी तरह की योजना का लाभ लेने की प्रक्रिया में पारदर्शिता भी आएगी।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.