रोहतक में विस्फोट के बाद हाईअलर्ट घोषित, सात थानों की टीम ने खंगाले आसपास के दो गांव

रोहतक में खरावड़ गांव के पास नलकूप के पास प्‍लास्टिक का बैग पड़ा था। यहां से जा रहे एक बुजुर्ग ने इसे वहां से उठाकर साइड में रखना चाहा तो ब्‍लास्‍ट होगा। जिसमें उसके हाथ के चिथड़े उड़ गए और मुंंह पर गंभीर जख्‍म आए हैं।

Manoj KumarSun, 01 Aug 2021 12:16 PM (IST)
रोहतक में खेतों में रखे प्‍लास्टिक बैग को छूने से ब्‍लास्‍ट हुआ था, इससे एक व्‍यक्ति गंभीर स्‍थि‍ति में है

जागरण संवाददाता, रोहतक : रोहतक के गांव खरावड़ स्थित आइएमटी में हुए ब्लास्ट के बाद जिले में हाइअलर्ट घोषित कर दिया गया है। खुफिया एजेंसियां और पुलिस अब पूरी तरह से सतर्क हो गई हैं। रविवार को सुबह डीएसपी सज्जन कुमार के नेतृत्व में सात थानों की टीमों ने तीन घंटे तक दो गांवों में सर्च अभियान चलाया। आइएमटी में विस्फोट के बाद हाइअलर्ट घोषित हो गया है। पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए रविवार सुबह सात थानों की टीमों को सर्च अभियान पर लगाया।

इसके पीछे वजह यह रही कि खरावड़ व खेड़ी साध के पास शहर का सबसे बड़ा इंडस्टि्यल एरिया स्थापित है। जहां पर बड़ी संख्या में दूसरे प्रदेशों के लोग किराए पर रह रहे हैं। इन लोगों की वैरिफिकेशन के लिए पुलिस ने एक-एक घर पर तलाशी अभियान चलाया। वहीं गांव के लोगों को हिदायत भी दी कि वे अपने किराएदारों का वैरिफिकेशन करवाएं। सर्च अभियान में सीआइए की तीनों टीमें, आइएमटी, सांपला, अर्बन एस्टेट व पीजीआइएमएस थाना की टीमें शामिल रही। करीब 250 पुलिस के जवान सर्च अभियान का हिस्सा बने।

बता दें कि रोहतक में खरावड़ गांव के पास नलकूप के पास प्‍लास्टिक का बैग पड़ा था। यहां से जा रहे एक बुजुर्ग ने इसे वहां से उठाकर साइड में रखना चाहा तो ब्‍लास्‍ट होगा। जिसमें उसके हाथ के चिथड़े उड़ गए और मुंंह पर गंभीर जख्‍म आए हैं। इसके बाद अफरा तफरी मच गई थी। जांच में सामने आया है कि यह किसी एक्‍सपेरीमेंट के लिए ही विस्‍फोटक तैयार किया गया था। कई एजेंसियां यहां पहुंच रही है। एरिया सील कर दिया गया है।

घटनास्थल से एक किलोमीटर का दायरे सर्च अभियान

दो गांवों में सर्च अभियान चलाने के अलावा पुलिस टीमों ने घटनास्थल से एक किलोमीटर के दायरे में भी सर्च अभियान जारी रखा। पुलिस की ओर से घटनास्थल का 200 मीटर दायरा सील कर रखा है। सर्च अभियान के दौरान अभी तक कोई भी संदिग्ध वस्तु नहीं मिली है। सर्च अभियान के दौरान टीमों ने खेतों में काम कर रहे किसानों से भी इस बारे में जानकारी जुटाई।

---इंडस्ट्रियल एरिया की वजह से खरावड़ व खेड़ी साध में बड़ी संख्या में दूसरे प्रदेशों के लोग रह रहे हैं। संदिग्धों की पहचान के लिए दोनों गांवों में सर्च अभियान चलाया गया था। हालांकि अभी तक कोई ऐसा संदिग्ध नहीं मिला है। उनका सर्च अभियान जारी रहेगा व मामले का सुराग जुटाने के लिए इंडस्टि्यल एरिया में भी सर्च अभियान चलाया जाएगा।

सज्जन कुमार, डीएसपी, रोहतक।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.