फैमिली आईडी कार्ड की डाटा खामियों से सरकारी नौकरियों में आवेदन नहीं कर पा रहे हरियाणवी युवा

युवक नौकरी से संबंधित फार्म नहीं भर पा रहे, अधिकारियों के पास भी कोई जवाब नहीं, चक्कर काट रहे लोग

परिवार पहचान पत्र के लिए सर्वे के दौरान खामियों का खामियाजा तमाम युवकों को भुगतना पड़ रहा है। परिवार पहचान पत्र में दूसरे जिलों के लोग भी एक-दूसरे में जोड़ दिए गए हैं। जिन लोगों के एक्स्ट्रा नाम पहचान पत्र में जोड़े हैं वह आवेदन नहीं कर पा रहे हैं।

Manoj KumarWed, 14 Apr 2021 02:53 PM (IST)

रोहतक, जेएनएन। नौकरी में आवेदन करने वाले युवाओं के लिए नई मुसीबत खड़ी हो गई है। परिवार पहचान पत्र की खामियों ने लोगों के सामने नई परेशानी आई है। परिवार पहचान पत्र के लिए सर्वे के दौरान खामियों का खामियाजा तमाम युवकों को भुगतना पड़ रहा है। फिलहाल सबसे बड़ी खामियां परिवार पहचान पत्र में दूसरे जिलों के लोग भी एक-दूसरे में जोड़ दिए गए हैं। जिन लोगों के एक्स्ट्रा नाम पहचान पत्र में जोड़ दिए गए हैं वह आवेदन नहीं कर पा रहे हैं। विभागों में चक्कर काटने के बावजूद भी राहत नहीं मिल रही।

रोहतक के मोखरा खेड़ी निवासी मोहित पुत्र बिजेंद्र सिंह ने बताया कि पहचान पत्र में तमाम खामियां हैं। इन्होंने बताया कि सरकारी नौकरियों में आवेदन के लिए परिवार पहचान पत्र देना अनिवार्य है। लेकिन खामियों के चलते आवेदन नहीं हो पा रहे। खामियां भी दूर नहीं हो रहीं। मोहित का दावा है कि फैमिली आईडी अनवैलिड दिखा रही है। जो फैमिली आईडी है उसमें दूसरे जिलों के एक्स्ट्रा मेंबर जोड़ दिए गए।

जब मैं अपनी फैमिली आईडी को अपलोड कराना चाहता हूं तो प्रोसीड टू नेक्स्ट स्टेप का आप्शन यानी विकल्प काम नहीं कर रहा। नौकरी में आवेदन के लिए मुझे अपनी पिता की फैमिली आईडी में मर्ज होना है। अब फैमिली आईडी में खामियों के चलते सरकारी नौकरियों के आवेदन व दूसरी योजनाओं का लाभी नहीं उठा पा रहे हैं। इन्होंने दावे किए हैं कि ऐसे ही तमाम मामले हैं।

इन मामलों से समझें परेशानी :

केस-1 : मोखरा खास के मोहित की फैमिली आईडी में जोड़ दी भिवानी की जानकी

बलियाली भिवानी के प्रीतम कहते हैं कि मेरी बहन जानकी को मोहित कुमार मोखरा खेड़ी की फैमिली आईडी के साथ जोड़ दिया है। मेरी बहन और मोहित के लिए सरकारी नौकरी के लिए आवेदन करना मुश्किल हो गया है। मोहित के पिता भी किसी दूसरी फैमिली आईडी में जोड़ दिए हैं। इन त्रुटियों के चलते सरकारी नौकरी में आवेदन नहीं कर पा रहे।

केस-2 : नौकरी में आवेदन नहीं

सांपला निवासी सुनील एक माह से चक्कर काट रहे हैं। सर्वे करके ले गए। मैं और मेरा भाई अलग-अलग रहते हैं। इन्होंने सर्वे को आधार बनाकर एक ही आईडी बना दी। हम अलग आईडी बनाना चाहते थे। मेरी आईडी में दो एक्स्ट्रा मेंबर जोड़ दिए। वह मेंबर भी मुश्किल से डिलीट हो सके। मेरी अलग आईडी नहीं पा रही। इस कारण भी परेशानी आ रहीं हैं। सेवा केंद्र वाले कह रहे हैं कि आपने यही आईडी अपलोड कर दी तो अलग-अलग आईडी नहीं बन सकती। अब नौकरी में आवेदन की तारीख मई में हो गई। मैंने हरियाणा में नौकरी में आवेदन के लिए फार्म भरा है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.