Haryana Weather News: हरियाणा में जोरदार बारिश से गर्मी छू मंतर, मगर फसलों को नुकसान, जानें आगे क्‍या

हरियाणा राज्य में मौसम 13 सितम्बर तक ज्यादातर क्षेत्रों में आमतौर पर परिवर्तनशील रहने बीच- बीच में बादलवाई तथा कहीं कहीं बारिश संभावित है। जिससे दिन व रात्रि के तापमान में हल्की गिरावट व हवा में नमी की अधिकता बने रहने की संभावना है।

Manoj KumarSun, 12 Sep 2021 12:25 PM (IST)
हरियाणा में मौसम लगातार बदल रहा है, कई जिले ज्‍यादा बारिश से परेशान हैं

जागरण संवाददाता, हिसार। दक्षिण पश्चिम मानसून अपने आखिरी दिनों में जमकर बारिश कर रहा है। पिछले दिनों गर्मी और उमस से हाल बेहाल था तो शनिवार को सुबह ही प्रदेश में कुछ स्थानों पर बारिश हुई। जिसके कारण दिन के तापमान में कमी आई है। इसके साथ ही फसलों के लिए भी यह बारिश अच्छी है। धान की फसल में बारिश का फायदा मिलेगा। मौसम विज्ञानियों की मानें तो 13 सितंबर तक बारिश के आसार हैं। साइक्लोनिक सर्कुलेशन के कारण यह बारिश हुई है। हिसरा में सुबह आसमान पर बादल छाए रहे इसके बाद जोरदार बारिश ने मौसम को सुहाना बना दिया। बारिश एक से डेढ़ घंटे तक रुक-रुककर चलती रही। हिसार में 40 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से तेज हवा भी चली जो सतह की तरफ थी। वहीं पांच से 15 मिलीमीटर प्रतिघंटा के हिसाब से बारिश हो रही है।

आगे कैसा रहेगा मौसम

चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के कृषि मौसम विज्ञान विभाग के अध्यक्ष डा. मदन खिचड़ ने बताया कि एक साइक्लोनिक सर्कुलेशन उत्तर पश्चिमी राजस्थान व इस के साथ लगते पंजाब के पास बना हुआ है। जिससे राज्य में मानसून 13 सितम्बर तक सक्रिय बने रहने की संभावना है। मौसम 13 सितम्बर तक ज्यादातर क्षेत्रों में आमतौर पर परिवर्तनशील रहने, बीच- बीच में बादलवाई तथा कहीं कहीं बारिश संभावित है। जिससे दिन व रात्रि के तापमान में हल्की गिरावट व हवा में नमी की अधिकता बने रहने की संभावना है।

एनसीआर में पहले ही हो चुकी है अत्यधिक बारिश

एनसीआर क्षेत्र में पहले से ही अधिक बारिश हो चुकी है। अब दोबारा बारिश हुई तो यहां जलजमाव के हालात होंगे। इसके लिए स्थानीय प्रशासन भी अलर्ट हिै। इसी के हिसार में पिछले दिनों हुई बारिश से शहर के कई सेक्टरों में बारिश से जलभराव हो गया तो गांव में लोगों के कमर तक पानी भर गया। जिससे ग्रामीणों को खेतों में काफी दिक्कत हो रही है। पाबड़ा, नारनौंद का वास, बरवाला के कुछ गांवों में काफी अधिक पानी भर गया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.