देशभर में मिसाल बना हरियाणा का सोलर वाटर पंप इंस्टालेशन, अधिकतम सब्सिडी बनी वरदान

पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतों में छलांग से चिंतित देशभर के किसानों के लिए वरदान साबित हो रहा है सोलर वाटर पंप। अहम यह कि अपेक्षाकृत कमतर आबादी का प्रदेश हरियाणा सूरज की किरणों से नियंत्रित-संचालित सोलर वाटर पंप के इंस्टालेशन में देश को राह दिखा रहा है।

Manoj KumarSun, 01 Aug 2021 02:20 PM (IST)
देश 13 राज्यों के कुल सोलर वाटर पंप इंस्टालेशन का करीब एक-तिहाई हरियाणा राज्‍य में है

मणिकांत मयंक, फतेहाबाद। बिजली की किल्लत और पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतों में छलांग से चिंतित देशभर के किसानों के लिए वरदान साबित हो रहा है सोलर वाटर पंप। अहम यह कि अपेक्षाकृत कमतर आबादी का प्रदेश हरियाणा सूरज की किरणों से नियंत्रित-संचालित सोलर वाटर पंप के इंस्टालेशन में देश को राह दिखा रहा है। देशभर के 13 राज्यों के कुल इंस्टालेशन में से करीब एक तिहाई का माइल-स्टोन हासिल कर मनोहर सरकार ने राजस्थान के साथ प्रधानमंत्री किसान उर्जा सुरक्षा एवं उत्थान महाभियान (पीएम-कुसुम) स्कीम का झंडा बुलंद किया है। नजीर बना हरियाणा का सोलर वाटर पंप इंस्टालेशन अब भी निर्बाध चल ही रहा है। आने वाले दिनों में प्रदेश के किसानों और भी सोलर वाटर पंप मुहैया करवाए जाएंगे।

सोलर वाटर पंप के मामले में सिरमौर बनने के महत्वपूर्ण कारणों में से एक है, मनोहर सरकार की ठोस सब्सिडी नीति। प्रदेश सरकार देश में सबसे अधिक 45 फीसद सब्सिडी देकर किसानों की राह आसान कर रही है। केंद्र सरकार से मिलने वाली 30 फीसद सब्सिडी मिलाकर कुल 75 फीसद सब्सिडी हो जाती है जो देशभर में सबसे ज्यादा है। हालांकि बताया यह भी जा रहा है कि अब महाराष्ट्र सरकार ने अपने राज्य में 65 फीसद सब्सिडी करने का निर्णय लिया है। लेकिन फिलहाल हरियाणा आगे है। हरियाणा सरकार की सब्सिडी नीति का लाभ उठा चुके किसान विजय कड़वासरा बताते हैं कि सरकार किसानों को बड़ी राहत दे रही है।

लाइट का कोई चक्कर नहीं। लाख-सवा लाख तक सोलर वाटर पंप इंस्टाल हो जाता है। वन टाइम इन्वेस्टमेंट है। 25 साल तक कोई चिंता नहीं। किसानों की परेशानी का ही तकाजा है कि हरियाणा सरकार ने बिजली से जूझते व कांग्रेस शासित पंजाब को सोलर पंप इंस्टालेशन में मीलों पीछे छोड़ दिया है। हरियाणा सरकार में अक्षय उर्जा विभाग के अधिकारी बताते हैं कि सितंबर तक खुद के निर्धारित लक्ष्य से काफी आगे होंगे।

सोलर वाटर पंप इंस्टालेशन पर एक नजर

देशभर का लक्ष्य : 1, 75, 000

13 राज्यों में इंस्टाल किये गए : 47,726

इंस्टाल करने वाले कुछ प्रमुख राज्य

हरियाणा : 14,254 इसके अलावा 8,000 के वर्क आर्डर जारी।

राजस्थान : 15,549

मध्यप्रदेश : 7,234

पंजाब : 2,925

हिमाचल प्रदेश : 121

हरियाणा में सौर उर्जा उत्पादन

- 138 मेगावाट ग्राउंड माउंटेड (जमीन पर)

- 206 मेगावाट रूफ टाप (छत पर)

सिरसा में सौर उर्जा का सबसे बड़ा प्रोजेक्ट

सरकार ने सिरसा में सौर उर्जा का सबसे बड़ा प्रोजेक्ट लगाया है। यहां की क्षमता 50 मेगावाट है। इसके अलावा भिवानी के रुपाणा सहित अन्य क्षेत्रों में 10-10 मेगावाट का प्रोजेक्ट है। सरकार का दूसरा सबसे बड़ा प्रोजेक्ट हिसार के आदमपुर में आने वाला है।

------

हम देशभर में लीड कर रहे हैं। सोलर वाटर पंप इंस्टालेशन में नंबर वन है हरियाणा। हमने 8,000 सोलर वाटर पंप इंस्टालेशन के वर्क आर्डर की औपचारिकता भी पूरी कर ली है।

- सोमवीर सिंह, प्रोजेक्ट डायरेक्टर, सौर उर्जा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.