Haryana Police: महिला सुरक्षा के प्रति जागरूकता जागृति यात्रा साइकिल रैली पहुंची रोहतक, दिया ये संदेश

रोहतक-गोहाना बार्डर पर साइकिल रैली का भव्य स्वागत किया गया। जिसमें अनेक पदाधिकारी व आमजन शामिल रहे। एसीपी ममता सौदा के नेतृत्व में यह साईकिल रैली 16 पुलिस महिला साइकिलिस्ट टीम के साथ 25 दिनों में 23 पुलिस जिलों को कवर करते हुए।

Naveen DalalPublish:Tue, 23 Nov 2021 02:32 PM (IST) Updated:Tue, 23 Nov 2021 02:32 PM (IST)
Haryana Police: महिला सुरक्षा के प्रति जागरूकता जागृति यात्रा साइकिल रैली पहुंची रोहतक, दिया ये संदेश
Haryana Police: महिला सुरक्षा के प्रति जागरूकता जागृति यात्रा साइकिल रैली पहुंची रोहतक, दिया ये संदेश

रोहतक, जागरण संवाददाता। महिला सुरक्षा के प्रति जागरूकता फैला रही जागृति यात्रा साइकिल रैली रोहतक पहुंच गई है। गोहाना रोड स्थित सुखपुरा चौक से होते हुए यह साइकिल रैली शहर में पहुंची। इससे पहले रोहतक-गोहाना बार्डर पर जागृति यात्रा का स्वागत किया गया। यात्रा के दौरान राजकीय महिला कालेज रोहतक व राजकीय कन्या स्कूल करौंथा में कार्यक्रम आयोजित होंगे। हरियाणा पुलिस की ओर से प्रदेशभर में महिला सुरक्षा और सशक्तिकरण के विषय में सामाजिक जागरूकता बढ़ाने के लिए साइकिल रैली जागृति यात्रा शुरू की गई है। जागृति यात्रा साइकिल रैली कल मंगलवार को सोनीपत से गोहाना होते हुए रोहतक पहुंची है। 

रोहतक-गोहाना बार्डर पर किया गया साइकिल रैली का स्वागत

रोहतक-गोहाना बार्डर पर साइकिल रैली का भव्य स्वागत किया गया। जिसमें अनेक पदाधिकारी व आमजन शामिल रहे। एसीपी ममता सौदा के नेतृत्व में यह साईकिल रैली 16 पुलिस महिला साइकिलिस्ट टीम के साथ 25 दिनों में 23 पुलिस जिलों को कवर करते हुए 1194 किलोमीटर का सफर तय करेंगी। जागृति यात्रा सोनीपत से रोहतक के लिए सुबह छह बजे रवाना हुई। उप पुलिस अधीक्षक सुशीला देवी ने एसीपी ममता सौदा के नेतृत्व में चल रही साइकिल रैली 16 पुलिस महिला साइकिलिस्ट टीम का स्वागत किया।

महिला सुरक्षा के प्रति जागरूक किया जा रहा

जागृति यात्रा साइकिल रैली के सम्मान में राजकीय महिला कालेज रोहतक में कार्यक्रम होगा। वहीं इसके बाद राजकीय कन्या स्कूल गांव करौथा में कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। जिनमें छात्राओं को महिला सशक्तिकरण के विषय में जागरूक किया जाएगा। बुधवार को यह साइकिल रैली पुलिस लाइन रोहतक से सुबह छह बजे झज्जर के लिए रवाना होगी। साइकिल रैली को देखकर महिलाओं में खासा उत्साह बना रहा। एसीपी ममता ने बताया कि यह रैली महिलाओं को सुरक्षा के प्रति जागरूक करने के उद्देश्य से शुरू की हुई है। रैली के दौरान विभिन्न स्थानों पर ठहराव के दौरान महिलाओं को न केवल कानूनी जानकारी दी जा रही है बल्कि उनको सुरक्षा के प्रति जागरूक भी किया जा रहा है।