हिसार में तीन महीनों में 82 हजार लोगों को लगी कोविशिल्ड की पहली डोज, अब चार दिनों में 40 हजार का लक्ष्‍य

हिसार में महज चार दिन में 40 हजार लोगों को कोरोना वैक्‍सीन लगाने का टारगेट रखा गया है

स्वास्थ्य विभाग को 11 से 14 अप्रैल तक करीब 40 हजार लोगों को कोरोना से बचाव का टीका लगवाने का टारगेट मिला है। विभाग की तरफ से 11 अप्रैल को यह अभियान शुरु किया जा चुका है। अगले दो दिन में साइट भी बढ़ाई जाएगी।

Manoj KumarMon, 12 Apr 2021 12:23 PM (IST)

हिसार, जेएनएन। हिसार जिले में तीन महीनें में 82014 लोग कोविशिल्ड वैक्सीन की पहली डोज लगवा चुके है। जबकि दूसरी डोज सिर्फ 11081 लोगों ने लगवाई है, यानि अब भी 70933 लोगों को दूसरी डोज लगनी बाकि है। इस कमी को टीका उत्सव के दौरान पूरा करने के प्रयास किए जा रहे है। गौरतलब है कि स्वास्थ्य विभाग को 11 से 14 अप्रैल तक करीब 40 हजार लोगों को कोरोना से बचाव का टीका लगवाने का टारगेट मिला है। विभाग की तरफ से 11 अप्रैल को यह अभियान शुरु किया जा चुका है। अगले दो दिन में साइट भी बढ़ाई जाएगी। करीब 200 साइट पर कोरोना से बचाव का टीका लगाया जाएगा।

जिले में 16 जनवरी से वैक्सीनेशन अभियान शुरु किया गया था। उस दौरान पहली बार कोविशिल्ड की 21 हजार की खेप सिविल अस्पताल पहुंची थी। तब से अब तक कोविशिल्ड वैक्सीन का प्रयोग जिले में हुआ है। हालांकि पड़ोसी जिलों में को-वैक्सीन का भी प्रयोग किया जा रहा है। टीका उत्सव में जिले में 7188 लोगों को पहली डोज लगवाई है। पहले दिन की अचीवमेट को देखें तो विभाग चार दिन में 40 हजार के करीब वैक्सीन लगाने के टारगेट को पूरा कर सकता है।

पहली डोज के आंकड़े -

अब तक पहली डोज लगी - 82014

हैल्थ वर्कर को लगी - 11986

फ्रंटलाइन वर्कर को लगी - 4371

60 से अधिक आयु वर्ग के - 45069

45 से 60 वर्ष की आयु के - 20588

दूसरी डोज लगी - 11081

हैल्थ वर्कर - 7900

फ्रंटलाइन वर्कर - 2308

60 से अधिक आयु के - 553 ने

45 से 60 वर्ष के गंभीर मरीजों में - 320 ने

वैक्सीन में लगातार मॉनिटरिंग करेंगे सिविल अस्पताल के डाक्टर -

सीएमओ डा. रत्नाभारती की मांग पर पीएमओ डा. गोविंद गुप्ता ने सिविल अस्पताल के डाक्टरों को भी टीका उत्सव में फील्ड में भेजना शुरु कर दिया है। चार दिनों में करीब 10 से 15 डाक्टर प्रत्येक दिन फील्ड में वैक्सीनेशन अभियान की मॉनिटरिंग करेंगे। सिविल अस्पताल प्रशासन की तरफ से इमरजेंसी और गायनी के चिकित्सकों को छाेड़कर अन्य सभी चिकित्सकों को फील्ड में उतारा है। यहीं नहीं पीडियाट्रिक डॉक्टर भी फील्ड में सेवाएं दे रहे है। करीब 42 चिकित्सकों की डयूटी लगाई गई है। साथ ही अन्य स्टाफ को भी फील्ड में उतारा है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.