Drinking Water Problem: फतेहाबाद के जनस्वास्थ्य विभाग के घर में स्वच्छ पानी पहुंचाने के दावे फेल, सप्लाई में आ रहा है दूषित पानी

फतेहाबाद के जनस्वास्थ्य विभाग हर घर में स्वच्छ पानी पहुंचाने का दावा फेल होते नजर आ रहे हैं। जल जीवन मिशन के तहत स्थानीय अधिकारी लाखों रुपये खर्च भी कर रहे है लेकिन धरातल पर इसका असर कुछ भी देखने को नहीं मिल रहा है।

Naveen DalalMon, 27 Sep 2021 04:57 PM (IST)
फतेहाबाद में पीने पानी का तरस रहे है लोग।

फतेहाबाद, जागरण संवाददाता। फतेहाबाद का जनस्वास्थ्य विभाग हर घर में स्वच्छ पानी पहुंचाने का दावा कर रहा है। जल जीवन मिशन के तहत स्थानीय अधिकारी लाखों रुपये खर्च भी कर रहे है, लेकिन धरातल पर इसका असर कुछ भी देखने को नहीं मिल रहा है। जनस्वास्थ्य विभाग की तरफ से हर गांव में पेयजल पाइप लाइन बिछाने का ठेका भी दे दिया गया, लेकिन यह पाइप लाइन कैसे बिछाई जा रही है अधिकारी निरीक्षण तक नहीं कर रहे है। यहीं कारण है कि घटिया किस्म की पाइप लाइन बिछा रहे है। जनस्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने ठेकेदारों को पेमेंट भी जारी कर दी, लेकिन अब इसका लाभ ग्रामीणों को नहीं मिल रहा है। ऐसा ही मामला गांव भूथनखुर्द में भी देखने को मिल रहा है।

गांव में दूषित पेयजल आपूर्ति को लेकर सैकड़ों ग्रामीणों द्वारा गांव के जलघर मे जनस्वास्थ्य विभाग के खिलाफ प्रदर्शन किया गया। जिसकी सूचना ग्रामीणों ने विभाग के एसडीओ ओमप्रकाश को दी। लेकिन ग्रामीणों द्वारा शिकायत देने के बावजूद न तो ठेकेदार और न ही कोई अधिकारी पहुंचा। ऐसे में ग्रामीणों ने स्पष्ट कह दिया है कि अगर कोई भी अधिकारी अब आएगा तो उसका घेराव करेंगे।

ये कहना है ग्रामीणों का

ग्रामीण सतबीर पूनिया, रूलीराम, महावीर, विनोद, अनिल, पवन, भूरूराम, नंबरदार हनुमान, अर्जुन सिंह, काला खिचड़, रामस्वरूप, कृष्ण लांबा, महावीर ढाका, वेदप्रकाश, जयपाल, सुभाषचंद्र, अभिषेक, रणजीत, मेवासिंह, दलीप सिंह आदि ने बताया की लगभग चार साल पहले इस जलघर का उद्घाटन हुआ था। दरअसल जलापूर्ति के लिए जलघर की टंकियों मे फतेहाबाद डिस्ट्रीब्यूटरी से पानी आता है। पाइपलाइन लीकेज होने के कारण खेतों का पानी पाइपलाइन से होते हुए टंकी तक आ रहा है।

फिल्टर किया पानी भी नहीं है पीने योग्य

अब आलम यह है फिल्टर किया हुआ पानी भी पीने योग्य नहीं है। वह सीमेंटेड पाइप लाइन खेतों के बीच दबाई गई है। धान के खेतों से गुजर रही यह पाइपलाइन काफी समय से लीक है। जिसमें खेतों के कीटनाशक और खाद युक्त पानी लोगों को पेयजल सप्लाई दे रहे है। ग्रामीणों ने कहा की इस बारे मे हमने ठेकेदार और जनस्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को समस्या से अवगत करवाया था। ग्रामीणों के मुताबिक विभाग के अधिकारियों ने गंभीर समस्या की अनदेखी की है। ग्रामीणों ने कहा की लगभग चार साल पहले ही भाजपा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने जलघर का उदघाटन किया था।

ये बोले जिम्मेदार अधिकारी

फतेहाबाद जनस्वास्थ्य विभाग के एसडीओ के अनुसार अभी बारिश के कारण पानी ओवरफ्लो हुआ है। फिलहाल गांव की सप्लाई बंद करवाई हुई है। टैंक के पानी को निकलवाकर साफ पानी भरवाया जाएगा। फिर ही सप्लाई दी जाएगी। मैं स्वयं जाकर गांव मे निरीक्षण करूंगा और समस्या का समाधान करवाया जाएगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.