Digital India: सिरसा में विश्वविद्यालय पुस्तकालय में ई संसाधनों की मोबाइल एप पर मिलेगी जानकारी, मिलेगा लाभ

सिरसा के विश्वविद्यालय में पुस्तकलयाध्यक्षा प्रो. डीपी वारने ने बताया कि वर्तमान समय में साढ़े छः लाख से ज्यादा इ-रिसोर्सेज विश्वविद्यालय के पास उपलब्ध है। जिससे विद्यार्थियों को फायदा मिल रहा है। पुस्तकालय के अंदर विद्यार्थियों के बैठने के लिए भी उचित व्यवस्था की गई है।

Naveen DalalTue, 23 Nov 2021 03:23 PM (IST)
विश्वविद्यालय के शोद्यार्थी तथा विद्यार्थी इ-जर्नल्स, इ-रिसोर्सेज से लाभान्वित होंगे।

सिरसा, जागरण संवाददाता। डिजिटल इंडिया के दौर में देश और प्रदेश में अन्य चीजों के साथ साथ पढ़ाई को भी डिजिटलाइजेशन किया जा रहा है। इस कड़ी में चौधरी देवीलाल विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. अजमेर सिंह मलिक स्वामी विवेकानंद पुस्तकालय में मौजूद इ-संसाधनों की जानकारी अब मोबाइल एप्प के माध्यम से मिलेगी। गुणवत्तापरक शिक्षा में एक नई युग की शुरुआत होगी। मोबाइल तथा डेस्कटॉप एप्प प्रारंभ किया गया है जिसके माध्यम से विश्वविद्यालय के शोद्यार्थी तथा विद्यार्थी इ-जर्नल्स, इ-रिसोर्सेज से लाभान्वित होंगे।

विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. अजमेर सिंह मलिक मंगलवार को स्वामी विवेकानंद पुस्तकालय द्वारा आयोजित यूजर अवेयरनेस ट्रेनिंग प्रोग्राम के उद्धघाटन के उपरांत दी। विश्वविद्यालय के सीवी रमन भवन में स्थित सेमिनार हाल में आयोजित कार्यक्रम में विश्वविद्यालय के विभिन्न संकायों के अधिष्ठाताओं, निदेशकों, विभागाध्यक्षों, प्राध्यापकों तथा शोधार्थियों ने भाग लिया। कुलपति ने कहा कि वर्तमान युग सूचना प्रौद्योगिकी का युग है और इ-रिसोर्सेज का अधिक से अधिक दोहन करके नए सिद्धांतोंकी खोज की जा सकती है। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि आए कुलपति ने विवेकानंद पुस्तकालय अध्यक्ष तथा पुस्तकालय के कर्मचारियों को कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए बधाई दी।  

विद्यार्थियों को मिल रहा है फायदा

पुस्तकलयाध्यक्षा प्रो. डीपी वारने ने बताया कि वर्तमान समय में साढ़े छः लाख से ज्यादा इ-रिसोर्सेज विश्वविद्यालय के पास उपलब्ध है। जिससे विद्यार्थियों को फायदा मिल रहा है। पुस्तकालय के अंदर विद्यार्थियों के बैठने के लिए भी उचित व्यवस्था की गई है। जिसे विद्यार्थी पुस्तकालय के अंदर बैठकर पढ़ाई कर सके। स्वामी विवेकानंद पुस्तकालय में मौजूद इ-संसाधनों की जानकारी अब मोबाइल एप्प के माध्यम से मिलेगी। जिसके लिए पूरी तैयारियां कर ली है।

विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. अजमेर सिंह मलिक का शैक्षणिक मामलों के अधिष्ठाता प्रोफेसर सुरेश गहलावत ने धन्यवाद व्यक्त किया। रेफरेड कंपनी के कार्यकारी अधिकारी मोहित शर्मा ने इ-लाइब्रेरी के रिसोर्सेज को बेहतर ढंग से इस्तेमाल करने के लिए विभिन्न प्रकार की तकनीकी जानकारी इस प्रशिक्षण में भाग लेने आए प्रतिभागियों को प्रदान की।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.