Delhi Rohini Court Shootout: पांच साल पहले पेशी पर ले जाते समय बहादुरगढ़ में हरियाणा पुलिस हिरासत से छुड़ाया गया था गाेगी गैंगस्‍टर

2016 में गोगी गिरोह के करीब एक दर्जन बदमाश दो गाड़ियों में बस का पीछा करते हुए आए थे और मौका पाकर उन्होंने बस को घेर लिया था। पुलिस कर्मियों की आंखों में मिर्च झोंक दी थी और गोगी को हथकड़ी समेत छुड़ाकर फरार हो गए थे।

Manoj KumarFri, 24 Sep 2021 04:27 PM (IST)
दिल्‍ली की रोहिणी कोर्ट में गैंगवार के दौरान मारा गए गैंगस्‍टर गोगी की फाइल फोटो

जागरण संवाददाता, बहादुरगढ़ : दिल्ली की रोहिणी कोर्ट में शुक्रवार को गैंगवार में मौत के घाट उतारे गए गैंगस्टर जितेंद्र मान उर्फ गोगी को पांच साल पहले बहादुरगढ़ में पुलिस की हिरासत से छुड़ाया गया था। तब उसे हरियाणा रोडवेज की बस में ही दिल्ली की तिहाड़ जेल से जींद के नरवाना में हत्या के मामले में पेशी पर ले जाया जा रहा था। उसके साथ दिल्ली पुलिस के चार जवान थे। 30 जुलाई 2016 की सुबह दिल्ली-रोहतक रोड पर बहादुरगढ़ से सटे सांखौल गांव के पास यह वारदात हुई थी। गोगी गिरोह के करीब एक दर्जन बदमाश दो गाड़ियों में बस का पीछा करते हुए आए थे और मौका पाकर उन्होंने बस को घेर लिया था।

हथियार लहराते हुए बस में दाखिल हुए थे। पुलिस कर्मियों की आंखों में मिर्च झोंक दी थी और गोगी को हथकड़ी समेत छुड़ाकर फरार हो गए थे। बदमाशों ने एक पुलिस जवान की राइफल व 13 राउंड भी छीन लिए थे। पुलिस की तरफ से एक फायर भी हुआ, मगर गोगी को तब उसके साथी छ़ुड़ाकर ले जाने में सफल हो गए थे। इस घटना को लेकर बहादुरगढ़ पुलिस ने 12 धाराओं में केस दर्ज किया था। हालांकि तब गोगी की पेशी के समय दिल्ली पुलिस की सुरक्षा को लेकर भी सवाल उठा था।

ऐसे हुई थी वारदात

बदमाश गोगी को लेकर जा रही टीम में हवलदार रामप्रकाश के अलावा सिपाही सुखवीर, राघव और ओमप्रकाश शामिल थे। गोगी को पहले हथकड़ी नहीं लगाई गई थी। उसने अलग सीट पर बैठने की जिद की और भागने की मंशा जताई तब उसे हथकड़ी लगाई गई थी। जब गोगी गिरोह के बदमाश बस में दाखिल हुए थे तब उन्होंने पहले रामप्रकाश से पिस्टल छीनने की कोशिश की। दो अन्य बदमाश ओमप्रकाश से उलझ गए थ। उसी की बेल्ट से हथकड़ी बंधी थी। बदमाशों ने उसकी कनपटी पर पिस्तौल तानकर हथकड़ी निकलवा ली। जबकि अन्य बदमाशों ने पीछे बैठे सिपाही राघव और सुखवीर की आंखों में मिर्च झोंक दी थी। उस वक्त गोगी पर संगीन वारदातों के आठ मामले विचाराधीन थे। इनमें कुछ दिल्ली के थे। बाकी हरियाणा के। जितेंद्र उर्फ गाेगी दिल्ली के अलीपुर का रहने वाला था।

गोगी गैंगस्‍टर ने 2017 में हरियाणा की मशहूर डांसर हर्षिता दहिया की गोली मारकर हत्‍या कर दी थी। ऐसा आरोप लगाया गया था तो इसके साथ ही अन्‍य कई तरह के आपराधिक मामले भी उस पर दर्ज थे। गोगी गैंगस्‍टर और टिल्‍लू के बीच शुरू में दोस्‍ती थी तो बाद में दुश्‍मनी होने के बाद इस लड़ाई में 25 लोगों की हत्‍या हो चुकी है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.