एसडीओ और लाइनमैन के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराने की मांग को लेकर धरना जारी

संवाद सहयोगी, हांसी : ऑल हरियाणा पावर कारपोरेशन एससी बीसी इंप्लाइज यूनियन की तरफ से एसडीओ से मारपीट करने के आरोपों में निलंबित किए गए कर्मचारियों की बहाली व एसडीओ पर मुकदमा दर्ज कराने की मांग को लेकर दिया जा रहा धरना तीसरे दिन भी जारी रहा। यूनियन सदस्यों ने प्रशासन व निगम के खिलाफ जमकर नारेबाजी की व एसडीओ पर भी कार्रवाई करने की मांग की। धरने की अध्यक्षता सब यूनिट प्रधान राजेंद्र गहलोत ने की जबकि मंच संचालन यूनिट सचिव कमल किशोर ने किया।

इस दौरान राज्य वरिष्ठ उपप्रधान धर्मवीर सेलवाल ने कहा कि हरियाणा सरकार की छवि को खराब करने के लिए एससी-बीसी कर्मचारियों के खिलाफ पुलिस प्रशासन द्वारा एकतरफा कार्रवाई की जा रही है। जिसे किसी भी कीमत पर सहन नहीं किया जाएगा। जब तक एसडीओ ठकराल के खिलाफ एससी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज नहीं किया जाता, उनका यह रोष प्रदर्शन जारी रहेगा। प्रदेश सह-सचिव चंद्रप्रकाश वर्मा ने कहा कि प्रदर्शन को तेज करने के लिए 20 जनवरी को रोहतक में स्टेट कार्यकारिणी की बैठक बुलाई गई है, जिसमें हांसी के घटनाक्रम व 26 जनवरी को विद्युत सदन में प्रस्तावित प्रदर्शन व सीएमडी शत्रुजीत कपूर के घेराव को लेकर विस्तार से विचार विमर्श किया जाएगा। इसके साथ ही 21 जनवरी को एसडीओ विकास ठकराल द्वारा जातिसूचक गालियां दिए जाने के खिलाफ एफआइआर दर्ज करवाने के लिए एसडीएम राजीव अहलावत को ज्ञापन सौंपा जाएगा। इस अवसर पर राज्य उपप्रधान नरसीदास मुवाल, रणधीर ¨सह ¨सहमार, रमेश तंवर, राजबीर सरोय, विवेक कुमार, यूनिट प्रधान रणबीर ¨सह, सुरेंद्र वर्मा, हरजीत ¨सह, राजीव कुमार, कश्मीर ¨सह, भूपेंद्र ¨सह आदि मौजूद थे। वर्जन:::::::

धरने पर बैठे कर्मचारियों की अनुपस्थिति लगाई जा रही है। इस मामले में निगम ने आरोपित कर्मचारियों को सस्पेंड भी किया है। हर कर्मचारी को निगम के नियमों की पालना करनी होगी।

- संकल्प परिहार, एक्सईएन

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.