Sirsa Crime News: सिरसा में चिटफंड कंपनी बनाकर की करोड़ों की ठगी, चार आरोपित नामजद

सिरसा के ग्रामीणाों से लाखों रुपये ठगी किए जाने का मामला सामने आया है। इस मामले में ओढ़ां थाना क्षेत्र के गांवों जंडवाला जाटान घुक्कांवाली आनंदगढ़ तथा सिरसा के कल्याणनगर के रहने वाले निवासियों ने पुलिस अधीक्षक को शिकायत दी।

Manoj KumarThu, 21 Oct 2021 12:00 PM (IST)
सिरसा जिले में चिटफंड कंपनी बनाकर ग्रामीणाों से लाखों चिटफंड

जागरण संवाददाता, सिरसा : चिटफंड कंपनी बनाकर ग्रामीणाों से लाखों रुपये ठगी किए जाने का मामला सामने आया है। इस मामले में ओढ़ां थाना क्षेत्र के गांवों जंडवाला जाटान, घुक्कांवाली, आनंदगढ़ तथा सिरसा के कल्याणनगर के रहने वाले निवासियों ने पुलिस अधीक्षक को शिकायत दी। इस मामले में ओढ़ां थाना पुलिस ने राजस्थान के संगरिया के हरिपुरा गांव निवासी राजपाल व तंदुरांवाली तहसील टिब्बी निवासी सोहन लाल कामरा, अराइयावाली निवासी गुरदीप सिंह व चक 28 एनडीआर निवासी राजेंद्र प्रसाद के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

आरोपियों ने अलग अलग स्कीमों से हरियाणा, पंजाब व राजस्थान के सैंकड़ों लोगों के रुपये अपनी कंपनी में निवेश करवाकर साजिश के तहत ठगी की है। अन्य राज्यों में भी आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज है। शिकायतकर्ताओं ने बताया कि आरोपितों की चिटफंड कंपनियों में 300 से 500 लोगों के द्वारा अलग अलग राज्यों में 200 से 250 करोड़ रुपये लगा हुआ है, जोकि सारी राशि आरोपितों ने हड़प ली।

ओढ़ां थाना क्षेत्र के गांव जंडवाला जाटान निवास जरनैल सिंह, सिमरजीत काैर निवासी कल्याणनगर, घुक्कांवाली निवासी सुभाष चंद्र, जंडवाला जाटान निवासी संदीप कौर, घुक्कांवाली निवासी जगसीर सिंह, गुरचरण सिंह, हरजीत सिंह, हरदेव सिंह सुखदेव सिंह, प्रदीप कुमार, जगदीप सिंह, भोला सिंह, गगनदीप तथा सतपाल निवासी आनंदगढ़ ने पुलिस अधीक्षक को शिकायत दी।

शिकायतकर्ताओं ने बताया कि आरोपित राजपाल सिंह व सोहन लाल कामरा नोबल एग्रोटेक कांटेक्ट फार्मिंग रतनपुरा कैंची हनुमानगढ़ रोड संगरिया के डायरेक्टर है। आरोपितों ने एक फाइनलेंस कंपनी बना रखी थी। जिसमें वे लोगों से मासिक किश्त के रूप में रुपये जमा करवाते थे। उन्ळें ब्याज का लालच देकर तीन से पांच साल तक पालिसी देकर ब्याज व अन्य वित्तीय लाभ पहुंचाने के लिए मैंबर बनाते थे। आरोपितों ने गुरदीप सिंह व राजेंद्र प्रसाद कोभ्ज्ञी अपने साथ मिला रखा था।

आरोपितों ने अलग अलग लोगों से 2185 रुपये, 600 रुपये, 545 रुपये, 955 रुपये व 5000 रुपये एक मुश्त जाम करवाकर उन्हें तीन से पांच साल की पालिसी देकर पालिसी पूरी होने पर अधिक ब्याज देकर सारी रकम के वापस की गारन्टी से पालिसी जारी कर रखी थी। आरोपितों ने अलग अलग जगह सेमिनार किए जिसमें गांव घुक्कांवाली, जंडवाला जाटान के लोगों को निवेश के लिए लालच दिया व स्कीमें बताई। आरोपितों ने केएस इंटरप्राइजिज व किनोको मार्केटिंग प्राइवेट लिमिटेड के नाम से फाइनेंस कंपनी खोल रखी थी ।आरोपितयों ने उनसे 2016-2017 व 2018 से मासिक किश्तों के रूप में कंपनी में रुपये जमा करवाते आ रहे थे।

जिनका मेच्योरिटी सीमा 2021,2022 और 2023 था। जो पालिसी 2021 में पूरी हो गई, उन पालिसी के रुपये लेने के लिए जब आरोपितों से संपर्क किया तो आरोपितों ने उन्हें दफ्तर में आकर रुपये ले जाने के लिए कहा था। जब वे उनसे मिले तो उन्हाेंने कहा कि हमने तो सिर्फ ठगी मारने के लिए ही कम्पनी खोल रखी है। और निवेश लालच देकर करवाते थे। जो पालिसी कर रखी है वो फर्जी है। मामले की जांच ओढ़ां थाना के एएसआइ मदन लाल कर रहे हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
You have used all of your free pageviews.
Please subscribe to access more content.
Dismiss
Please register to access this content.
To continue viewing the content you love, please sign in or create a new account
Dismiss
You must subscribe to access this content.
To continue viewing the content you love, please choose one of our subscriptions today.