ट्रॉली बैग में मिले युवती के शव की 14 दिन बाद भी नहीं हुई शिनाख्‍त, बड़ा खौफनाक था मंजर

ट्रॉली बैग में मिली युवती के शव की पहचान एक पखवाड़े के बाद भी नहीं हुई है।
Publish Date:Fri, 23 Oct 2020 10:29 AM (IST) Author: Manoj Kumar

सिरसा/हिसार, जेएनएन। सिरसा में डिंग थाना क्षेत्र के गांव फूलकां के समीप वन मंदोरी माइनर में ट्रॉली बैग में मिली युवती के शव की पहचान एक पखवाड़े के बाद भी नहीं हुई है। मृतका के शव का पोस्टमार्टम कर अंतिम संस्कार कर दिया गया है। मृतका की पहचान के लिए पुलिस ने सिरसा जिले के अलावा साथ लगते पंजाब व राजस्थान पुलिस से संपर्क कर पहचान का प्रयास किया। परंतु सफलता नहीं मिली है।

गला दबाकर की गई हत्या

डिंग पुलिस द्वारा बीती 9 अक्टूबर की रात को फूलकां माइनर से एक ट्रॉली बैग में से युवती की लाश बरामद की थी। युवती के गले पर निशान है। जिससे कयास लगाए जा रहे हैं कि उसकी गला दबाकर हत्या की गई और बाद में शव को ट्रॉली बैग में डाल कर माइनर में फेंक दिया। पुलिस इसे हत्या की वारदात मान कर जांच कर रही है परंतु अभी तक यह भी पता नहीं लगा पाई है कि मृतका है कौन। मृतक युवती करीब 25-26 साल की थी। उसने लाल रंग का कढ़ाईदार सूट व तांबे रंग की सलवार पहनी हुई थी। नाक व कानों में छोटी छोटी बालियां थी।

जनवरी महीने में मिली थी महिला व बच्चे की लाश

इससे पहले भी 21 जनवरी 2020 को सिरसा शहर से करीब 20 किलोमीटर दूर हाइवे के किनारे ङ्क्षडग थाना क्षेत्र में एक बच्चे का शव मिला था जबकि सिरसा शहर में हुडा सेक्टर में जलघर के समीप महिला का शव बरामद हुआ था। यह वारदात भी अभी तक पहेली बनी हुई है। इसमें भी पुलिस यह तक पता नहीं लगा पाई है कि मृतका महिला व बच्चा कौन थे और कहां के रहने वाले थे।

----------

डिंग थाना क्षेत्र के गांव फूलकां के समीप माइनर में से ट्राली बैग में मिली महिला की शिनाख्त नहीं हो पाई है। मृतका की पहचान के लिए पड़ोसी राज्यों में भी फोटो भेजकर पहचान के लिए सहयोग मांगा गया था। साथ लगते गांवों में भी पूछताछ की गई है परंतु अभी तक शिनाख्त नहीं हो पाई है।

- इंस्पेक्टर सुखबीर ङ्क्षसह, प्रभारी डिंग थाना।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.