BJP Congress Protest: सिरसा में माहौल गर्म, दो घंटे तक भाजपा कांग्रेस कार्यकर्ता एक दूसरे के खिलाफ करते रहे नारेबाजी

सिरसा में पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह के विरोध में भाजपा कार्यकर्ताओं ने बेगू रोड पर कांग्रेस भवन के समीप प्रदर्शन किया। वहीं कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भाजपा के खिलाफ नारेबाजी करते हुए रोष जताया। भाजपा व कांग्रेस कार्यकर्ता दो घंटे तक एक दूसरे के खिलाफ नारेबाजी करते रहे।

Rajesh KumarSat, 18 Sep 2021 02:56 PM (IST)
सिरसा में कांग्रेस भवन के सामने भाजपा कार्यकर्ताओं का विरोध प्रदर्शन।

जागरण संवाददाता, सिरसा। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह के बयान को लेकर सिरसा में भाजपा कार्यकर्ताओं ने बेगू रोड पर कांग्रेस भवन के समीप प्रदर्शन किया। वहीं कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भाजपा के खिलाफ नारेबाजी करते हुए रोष जताया। भाजपा व कांग्रेस कार्यकर्ता दो घंटे तक एक दूसरे के खिलाफ नारेबाजी करते रहे। भाजपा व कांग्रेस कार्यकर्ताओं के विरोध को देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात रहा। पुलिस ने दोनों तरफ रस्सी बांधकर बीच पर पुलिस की गाड़ियों को खड़ा कर दिया। जिला पुलिस के साथ-साथ सीआरपीएफ के जवान भी तैनात रहे।

150 मीटर दूर किया प्रदर्शन

भाजपा नेता एकत्रित होकर नारेबाजी करते हुए बेगू रोड स्थित कांग्रेस भवन की तरफ करीब सुबह दस बजे पहुंचे। इसी दौरान कांग्रेस भवन में पहले से ही एकत्रित कांग्रेस कार्यकर्ता भी गेट पर आ गये। इसके बाद भाजपा कार्यकर्ताओं की तरफ बढ़ने लगे। पुलिस ने भाजपा कार्यकर्ताओं को 150 मीटर दूरी पर ही रोक लिया। भाजपा के जिला अध्यक्ष आदित्य चौटाला, वरिष्ठ नेता जगदीश चोपड़ा, गुरदीप राही, रेणू शर्मा, अमन चोपड़ा, सुरेंद्र आर्य व अन्य कार्यकर्ता नारेबाजी करते हुए कहा कि पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह बयान देते है कि किसान हरियाणा में जाकर प्रदर्शन करो। ऐसा कर भड़काने का कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने जो किसानों के लिए योजना चलाई है। उससे किसानों को भला होगा। जबकि कांग्रेस के नेता केवल राजनीति कर रहे हैं।

कांग्रेस भवन के पास बीजेपी कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन।

दस मिनट तक जिद पर डेट रहे भाजपा कांग्रेस कार्यकर्ता

बेगू रोड पर प्रदर्शन करते हुए भाजपा कार्यकर्ता करीब 11:50 पर वापस जाने लगे। इस पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जोर से नारेबाजी शुरू कर दी। इस पर भाजपा कार्यकर्ता भी वापस आ गये। इसके बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं को विरोध जताते हुए नारेबाजी शुरू कर दी। डीएसपी संजय बिश्नोई, आर्यन चौधरी ने दोनों तरफ कार्यकर्ताओं को वापस जाने के लिए आग्रह करते रहे। इस पर दोनों तरफ से भाजपा व कांग्रेस कार्यकर्ता पहले जाने की जिद पर डेट गये। इसके बाद पुलिस कर्मचारियों ने दोनों तरफ बातचीत कर कार्यकर्ताओं को समझाकर वापस भेज दिया।

किसानों की पहले याद नहीं आई

उधर कांग्रेस पार्टी कालांवाली विधायक शीशपाल केहरवाला, पूर्व सांसद चरणजीत सिंह रोडी, राजकुमार शर्मा, जिला कोर्डिनेटर सुभाष जोधपुरिया ने कहा कि भाजपा को पिछले 10 महीनों में किसानों की याद नहीं आई जो विरोध जताने पहुंचे है। उन्होंने कहा कि किसान देश का अन्नदाता है और नेता से पहले वे अन्नदाता के पुत्र भी है लेकनि भाजपा पार्टी के नेता उसी अन्नदाताओं की भावनाओं को कुचलने में जुटी है। इस अवसर पर पवन बैनीवाल, विनीत कंबोज, सुरेंद्र नेहरा, आनंद बियानी, नवीन केडिया, जग्गा सिंह, छोटू सहारण, लादूराम पूनिया, श्यामलाल मेहता, बूटा सिंह थिंद, रतन गेदर, मोहित शर्मा, राजेश शर्मा, नवदीप कंबोज, वेद भाट, डॉ. डीके महिपाल, राजेश चाडीवाल, राखी मौर्य एडवोकेट, जग्गा सिंह बराड, गोपीराम चाडीवाल्र मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.