Ayushman Bharat: Prime Minister Jan Arogya योजना के तीन साल पूरे, हिसार में अब तक कुल 2 लाख 14 हजार लाभार्थियों के कार्ड बने

आयुष्मान भारत योजना सरकार द्वारा 23 सितंबर 2018 को शुरू की गई थी। इस योजना के तहत देश भर मे सामाजिक और आर्थिक आधार पर जनगणना 2011 के अनुसार लाभार्थियो का चयन किया गया है। जिनके कार्ड स्वास्थ्य विभाग द्वारा बनाए जा रहे है।

Naveen DalalThu, 23 Sep 2021 05:22 PM (IST)
हिसार में आयुष्मान योजना से हजारों लोगों को हुआ फायदा।

हिसार, जागरण संवाददाता। आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तीन वर्ष पूरे गए है।आयुष्मान विश्व की सबसे बड़ी स्वस्थ्य योजना है। आयुष्मान भारत योजना सरकार द्वारा 23 सितंबर 2018 को शुरू की गई थी। जिसके अंतर्गत हिसार में लगभग एक लाख छह हजार चयनित परिवारों के चार लाख 79 हजार व्यक्तियों को लाभार्थी के रूप में चिन्हित किया गया है । इस योजना के अन्तर्गत शेष बचे हुए लाभार्थी के कार्ड बनवाने के लिए स्वस्थ्य विभाग द्वारा 15 सितम्बर से 30 सितंबर तक “ आपके द्वार आयुष्मान 2.o “ पखवाड़े का आयोजन किया जा रहा हैं। इस योजना के तहत देश भर मे सामाजिक और आर्थिक आधार पर जनगणना 2011 के अनुसार लाभार्थियो का चयन किया गया है। जिनके कार्ड स्वास्थ्य विभाग द्वारा बनाए जा रहे है।

हिसार सिविल सर्जन के अनुसार

सिविल सर्जन डाक्टर रत्ना भारती ने बताया की शेष बचे हुए परिवारों के कार्ड बनाने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे है। इसके लिए आशा वर्कर, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और पंचायती राज संस्थाओ का सहयोग लिया जा रहा है।प्रधान मंत्री योजना के नोडल अधिकारी डाक्टर मनीष पचार ने बताया की आपके द्वार आयुष्मान पखवाड़े के दौरान सीएससी द्वारा आयुष्मान कार्ड की निर्धारित फीस 30 रुपये नहीं ली जाएगी और कार्ड निशुल्क बनाए जाएंगे । सभी सूचीबद्ध अस्पतालो मे भी कार्ड निशुलक बनाए जा रहे है। इसके अंतर्गत प्रति परिवार प्रति वर्ष पांच लाख तक का इलाज (स्वास्थ्य बीमा) निशुल्क है ।

चयनित परिवार सूचीबद्ध सरकारी व निजी अस्पताल में स्वास्थ्य सुविधा का लाभ ले सकता है। इस योजना के लाभार्थी अपना आयुष्मान कार्ड अटल सेवा केंद्र पर या सूचीबद्ध सरकारी अस्पताल में बनवा सकते हैं ।

2 लाख 14 हजार लाभार्थियों के बने कार्ड

इस योजना के अंतर्गत हिसार में 9 सरकारी व 48 निजी, कुल 57 अस्पताल शामिल किए जा चुके है । हिसार में अब तक कुल 2 लाख 14 हजार लाभार्थियों के कार्ड बनाए जा चुके है। आयुष्मान योजना के अंतर्गत अब तक हिसार जिले मे 42000 लाभार्थियों ने लाभ उठाया है। जिस पर सरकार द्वारा 55 करोड़ रू खर्च किए जा चुके हैं। सिविल सर्जन डा रत्ना भारती ने अपील की है की आयुष्मान भारत योजना का लाभ लेने के लिए चयनित परिवार जल्दी से जल्दी अपने निकटतम अटल सेवा केन्द्र या सूचीबद्ध सरकारी अस्पताल में जाकर अपना आयुष्मान कार्ड बनवाए । साथ ही सभी निजी सूचीबद्ध अस्पताल संचालकों से अपील है की आयुष्मान भारत योजना के मरीजों का समाज सेवा का भाव रखते हुये निशुल्क इलाज करें । हिसार जिले के ही सबसे ज्यादा 17 अस्पतालो को क्वालिटी काउंसिल ऑफ इण्डिया द्वारा गोल्ड, सिल्वर और ब्रोंज प्रमाण पत्र प्रदान किए गए है।

जिला सूचना प्रबन्धक विनोद ने इस योजना का लाभ प्राप्त करने वाले लाभार्थियों की के बारे में जानकारी दी

डूडीवाला निवासी अजीत और प्रदीप निवासी जींद के दिल की बाईपास सर्जरी फ्री में कर नया जीवन प्रदान किया। इस आपरेशन पर चार लाख खर्च आता है

सारंगपुर निवासी ओमप्रकाश जो की दिहाड़ी मजदूरी कर अपने 14 सदस्यो के परिवार का पेट भरता है । इसका कैंसर का इलाज़ योजना के अन्तर्गत फ्री में किया गया

तलवंडी राणा निवासी नारायणी जोकि एक गरीब परिवार से है। जिनका आपरेशन के द्वारा कूल्हे बदले गए। जिस पर सरकार द्वारा लगभग एक लाख की राशि खर्च की गई ।

भोड़िया गांव निवासी संदीप के नवजात शिशु जो की समय से पहले जन्म लेने के कारण कम वजन (1.3 किलोग्राम) था। आयुष्मान योजना के तहत लगभग एक लाख 15 हजार खर्च कर बच्चे की जान बचाई ।

सोनू निवासी मिल गेट हिसार तथा राजपती निवासी भिवानी रोहिल्ला का नागरिक अस्पताल में डायलिसिस फ्री में किया जा रहा है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.