बहादुरगढ़ में कमरे में अंगीठी जलाकर सोए किशोर की दम घुटने से मौत, दो युवक हुए बेसुध

अंगीठी जलाकर सोने से दम घुटने के कारण इससे पहले भी कई हादसे हो चुके हैं

बहादुरगढ़ में रेलवे लाइन पार एरिया में निजामपुर रोड पर कमरे में किराये पर रह रहे दूसरे राज्‍य के तीन लोग ठंड से बचाव के लिए रात को अंगीठी जलाकर सो गए। इसमें दम घुटने से एक किशोर की मौत हो गई।

Publish Date:Sun, 17 Jan 2021 08:58 AM (IST) Author: Manoj Kumar

बहादुरगढ़, जेएनएन। कमरे में अंगीठी जलाकर सोना जानलेवा हो सकता है। आग से निकलने वाली गैस से दम घुट सकता है और मौत तक हो सकती है। ऐसा ही एक और मामला सामने आया है। रेलवे लाइन पार एरिया में निजामपुर रोड पर कमरे में किराये पर रह रहे तीन लोग ठंड से बचाव के लिए रात को अंगीठी जलाकर सो गए। इसमें दम घुटने से एक किशोर की मौत हो गई। जबकि दाे युवकों की हालत बिगड़ गई। बताया जा रहा है कि मृतक का न पोस्टमार्टम हुआ और न कोई पुलिस कार्रवाई। उसके शव को पैतृक गांव ले गए। जबकि बेसुध दोनों युवकों को राेहतक पीजीआइ ले जाया गया।

घटना को लेकर रोहतक पीजीआइ से ही लाइन पार थाना पुलिस के पास शनिवार की शाम को सूचना आई तब इस बारे में पता लगा। इसके बाद थाना से टीम जांच के लिए पहुंची। इसी छानबीन में पता लगा कि तीनों कमरे में रात को अंगीठी जलाकर सोए थे। कमरा बंद था जो अंदर से गैस चैंबर बन गया। लाइन पार थाना के जांच अधिकारी सचिन कुमार ने बताया कि रोहतक पीजीआइ में दाखिल सरोज खान उर्फ शहनूर और सरताज खान के बारे में सूचना आई थी। दोनों के ब्यान दर्ज नहीं हो सके हैं।

ये दोनों भाई हैं और मूल रूप से उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद जिले के गांव उजरामऊ के रहने वाले हैं। तीसरा जिसकी मौत हुई है, उसके बारे में पुलिस के पास सूचना नहीं आई। उसका नाम शकील बताया जा रहा है। इन दाेनों के जब ब्यान दर्ज होंगे, उसके बाद ही तीसरे के बारे में कुछ और जानकारी मिलेगी। वह अलग गांव का बताया गया है।

-- -- -- -- -- -- -- -- -- -- -- -- -- -

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.