डिस्ट्रीब्यूटरशिप देने के नाम पर अनाज मंडी व्यापरी से 19 लाख 43 हजार की धोखाधड़ी

डिस्ट्रीब्यूटरशिप देने के नाम पर अनाज मंडी व्यापरी से 19 लाख 43 हजार की धोखाधड़ी

- कंपनी के पार्टनर पर करीब 20 लाग रुपये की धोखाधड़ी का आरोप - सिटी थाना में धोखाधड़ी क

JagranSun, 11 Apr 2021 08:05 AM (IST)

- कंपनी के पार्टनर पर करीब 20 लाग रुपये की धोखाधड़ी का आरोप

- सिटी थाना में धोखाधड़ी के मामले में दो केस दर्ज

जागरण संवाददाता, हिसार: नई अनाज मंडी निवासी गोविद अग्रवाल ने तीन लोगों पर धोखाधड़ी का आरोप लगाकर सिटी थाना पुलिस को शिकायत दी है। गोविद अग्रवाल ने बताया कि रिद्धि सीड्स प्राइवेट लिमिटेड के मैनेजिग डायरेक्टर गुजरात निवासी परेश पटेल और कंपनी के कर्मचारी हाजमपुर निवासी कुलदीप और बलवान ने उससे धोखाधड़ी की है। शिकायत में बताया कि आरोपितों ने उसे हिसार के लिए डिस्ट्रीब्यूटरशिप लेने के लिए कहा। गोविद ने बताया कि उनकी बातों में आकर उसने 28 फरवरी को 2020 को डिस्ट्रीब्यूटरशिप के दस्तावेज पर हस्ताक्षर कर दिए। उसने 25 हजार रुपये का चेक आरोपितों को दे दिया। लेकिन आरोपितों ने उससे अलग-अलग खर्चे बताकर कुल कई बार रुपये ऐंठ लिए। लेकिन बीज के मात्र 600 पैकेट भेजे, जिनकी कीमत मात्र 4,38,000 रूपये है। आरोपित ने उससे कुल 19,43,000 रुपये धोखाधड़ी व जालसाजी से हड़प कर लिए हैं। जो बीज भेजा उसका भी फर्जी बिल बनाया गया था।

वहीं एक अन्य मामले में सेक्टर 14 निवासी जगबीर ने सिटी थाना पुलिस को शिकायत दी है। शिकायत में बताया कि उसने रामफल और रामकिशन से मिलकर एक कम्पनी रजिस्टर्ड करवाई थी। लेकिन रामफल व रामकिशन ने षड्यन्त्र रचकर कोरे कागजात पर साइन करवारकर उसके दस्तावेजों का गलत प्रयोग कर कम्पनी के 15-20 लाख रुपये बिना उसकी सहमति के निकाले लिए। आरोपितों ने उसके पास वाट्सएप पर सुसाइड नोट व एक अन्य नोटिस भेजा। डर के चलते पहले वह शिकायत नहीं दे सका। उसका 31 जनवरी 2021 को इस मामले में कोई समझौता भी नहीं हुआ। उस दिन शाम को रामफल व रामकिशन ने उसे जाति सुचक गालियां दीं। पुलिस ने शिकायत पर केस दर्ज कर लिया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.