बाइक चला रहे दोस्त को पीछे बैठे युवक ने गोली मारी, जख्मी

बाइक चला रहे दोस्त को पीछे बैठे युवक ने गोली मारी, जख्मी

सेक्टर-9 स्थित राजकीय महाविद्यालय के नजदीक शनिवार रात एक युवक ने अपने नजदीकी दोस्त को गोली मार दी। गोली पेट में लगी। पहले उसे जिला नागरिक अस्पताल में भर्ती कराया गया।

Publish Date:Sun, 29 Nov 2020 07:35 PM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, गुरुग्राम: सेक्टर-9 स्थित राजकीय महाविद्यालय के नजदीक शनिवार रात बाइक पर पीछे बैठक युवक ने युवक ने बाइक चला रहे अपने दोस्त को गोली मार दी। गोली उसकी कमर में लगी। पहले उसे जिला नागरिक अस्पताल में भर्ती कराया गया। स्थिति गंभीर होने पर उसे दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल रेफर कर दिया गया। गोली मारने के आरोपित 21 वर्षीय आफताब को क्राइम ब्रांच की मानेसर टीम ने रविवार शाम बांस कुशला में टैंपो स्टैंड के नजदीक से गिरफ्तार कर लिया। उसे सोमवार दोपहर अदालत में पेश कर पूछताछ के लिए रिमांड पर लिया जाएगा। उसके कब्जे से देशी पिस्तौल बरामद की गई।

प्रारंभिक छानबीन के मुताबिक आरोपित की दोस्त से कुछ दिन पहले लड़ाई हो गई थी। उसी रंजिश में उसने गोली मारी। छानबीन में यह भी बात सामने आई कि आफताब हत्या के एक मामले में जेल में बंद था। कोरोना के चलते उसे जमानत दी गई थी। वह 3500 रुपये में उत्तर प्रदेश से देसी पिस्टल खरीदकर लाया था।

क्राइम ब्रांच की मानेसर टीम के प्रभारी अमित कुमार का कहना है कि आरोपित के ऊपर वर्ष 2017 के दौरान फिरोज गांधी कालोनी निवासी रोहित की हत्या करने का आरोप है। वर्ष 2019 में अवैध हथियार रखने के आरोप में भी गिरफ्तार किय गया था। इससे पहले बाल सुधार गृह भी जा चुका है।

मूल रूप से रेवाड़ी जिले के गांव मालपुरा निवासी सुनील उर्फ मोनू गुरुग्राम की देवीलाल कालोनी में किराये पर रहकर एक ई-कामर्स कंपनी में काम करते हैं। सुनील शनिवार रात देवीलाल कालोनी में ही रहने वाले अपने दोस्त आफताब के साथ बाइक से विकास नगर जा रहे थे। सुनील बाइक चला रहे थे। सेक्टर-9 राजकीय महाविद्यालय के नजदीक आफताब ने उन्हें पीछे से पिस्टल से गोली मार दी। इसक बाद आफताब मौके से फरार हो गया।

आसपास के लोगों ने सुनील को जिला नागरिक अस्पताल में भर्ती कराया गया। सूचना मिलते ही सेक्टर-9ए थाना पुलिस मौके पर पहुंची और छानबीन शुरू की। इधर, शनिवार रात गोली चलने की आवाज से इलाके में काफी देर तक सनसनी रही। अगस्त महीने के दौरान सेक्टर-9ए थाना इलाके में ही तिहरा हत्याकांड हुआ था।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.