Delhi Violence on Jan 26: गुरुग्राम में दिल्ली हिंसा के विरोध में निकाली जा रही है तिरंगा यात्रा

किसान आंदोलन के नाम पर इस समय देश को शर्मसार करने वाली घटनाओं को अंजाम दिया जा रहा है।

Delhi Violence on Jan 26 काफी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। लोग भारत माता की जय के साथ दिल्ली में उपद्रव करने वालों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। इसमें काफी संख्या में महिलाएं भी शामिल हैं।

JP YadavSat, 30 Jan 2021 02:46 PM (IST)

गुरुग्राम, जागरण संवाददाता। 26 जनवरी के दिन दिल्ली में ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा को लेकर विरोध में दिल्ली से सटे हरियाणा के गुरुग्राम और रेवाड़ी जिले में तिरंगा निकाली जा रही है। गुरुग्राम में तिरंगा सम्मान यात्रा निकालने के लिए गुरुग्राम क्लब मैदान में काफी संख्या में लोग जमा हुए हैं। इसके लिए काफी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। लोग भारत माता की जय के साथ दिल्ली में उपद्रव करने वालों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। इसमें काफी संख्या में महिलाएं भी शामिल हैं। इससे पहले शुक्रवार को भी गुरुग्राम के बादशाह पुर में तिरंगा यात्रा निकाली गई थी। इस मौके पर लोगों ने कहा था कि किसान आंदोलन की आड़ में देश को तोड़ने वाली ताकतों से सरकार को ठोस कदम उठाकर निपटने की जरूरत है। जिस तरह से पुलिस पर हमला किया जा रहा है। लोकतंत्र के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। किसान आंदोलन के नाम पर इस समय देश को शर्मसार करने वाली घटनाओं को अंजाम दिया जा रहा है। दिल्ली की सीमाओं को चारों तरफ से जिस तरह से घेर रखा है। उससे लोगों के कारोबार पूरी तरह से ठप पड़े हैं।

देश की बदनामी होने के साथ-साथ लोगों को आर्थिक नुकसान भी उठाना पड़ रहा है। कृषि कानून में अगर कहीं कोई दिक्कत है, तो सरकार उस पर बातचीत कर संशोधन करने कि लगातार बात कर रही है। उसके बावजूद बातचीत के माध्यम से हल निकालने की कोशिश नहीं की जा रही है। आंदोलन के नाम पर लोगों को भड़का कर देश में अराजकता का माहौल पैदा किया जा रहा है।

देश को तोड़ने वाली ताकतों से कठोरता से निपटे सरकार

दिल्ली में लाल किले की प्राचीर पर चढ़कर उपद्रवियों द्वारा दूसरा झंडा लगाने तथा तोड़फोड़ करने के विरोध में शहर में तिरंगा यात्र निकाली गई। महिला जनसेवा समिति की ओर से निकाली गई तिरंगा यात्र राजेंद्र पार्क से शुरू हुई। यात्र में काफी संख्या में महिलाएं, बच्चे व युवा भी शामिल थे। सभी भारत माता की जय के नारे लगाते हुए शिवजी मूर्ति तक पहुंचे और यहां से वापस चले गए।

यात्र में शामिल राजेश पटेल व रूपा पटेल ने कहा किसान आंदोलन की आड़ में उपद्रवियों ने जो कुछ किया उससे पूरे देश को शर्मसार होना पड़ा। घिनौनी हरकत करने वाले को तुरंत गिरफ्तार किया जाए तथा बातचीत कर आंदोलन समाप्त कराया जाना चाहिए। लोग परेशान हो रहे हैं।

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.