top menutop menutop menu

Gurugram Weather News: नौतपा शुरू होते ही बरसी आसमान से आफत, गर्मी ने तोड़े रिकॉर्ड

गुरुग्राम, संदीप रतन/संजय गुलाटी। दिल्ली से सटे गुरुग्राम में भी गर्मी का सितम जारी है। नौतपा की सोमवार से शुरुआत होने के साथ ही अब आसमान से आग बरसने लगी है। हालात ये है कि गर्मी दिन में तो बेहाल कर रही रही है, रात को भी तापमान में गिरावट नहीं आने से चैन नहीं है। क्षेत्र प्रचंड गर्मी की चपेट में है और लू के थपेड़े भी लगने लगे हैं। मौसम विभाग के मुताबिक अधिकतम तापमान 46.2 डिग्री सेल्सियस के साथ सोमवार सीजन का सबसे गरम दिन रहा। वहीं, न्यूनतम तापमान 26.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

चिलचिलाती धूप से सुबह की शुरुआत हुई और दोहपर होने तक तो धरती उबलने लगी। रात तक भी गर्मी से राहत नहीं मिली। मंगलवार को मौसम साफ रहने और लू चलने का अनुमान है।

इससे पहले रविवार को भी शहर का अधिकतम तापमान 45 व न्यूनतम तापमान 29 डिग्री दर्ज किया गया। चार दिनों से पड़ रही गर्मी से लोग परेशान हो उठे हैं। वहीं गर्मी बढ़ते ही अघोषित बिजली कटौती भी बढ़ गई। घर में रह रहे लोग बिजली नहीं रहने से परेशान रहें।

बिजली कटौती ने बढ़ाई मुश्किल

वही बिजली निगम के अधिकारी पर्याप्त बिजली देने का दावा कर रहे हैं। उनका कहना है कि जिस इलाके में बिजली गई वहां के लोकल फाल्ट के चलते समस्या हुई। दूसरी ओर लोगों का कहना है कि हर साल बिजली निगम के अधिकारियों द्वारा दावा किया जाता है कि आने वाली गर्मी में बिजली कटौती नहीं होगी, मगर होता बिल्कुल इसके विपरीत है।

सेक्टर-39 तरुण शर्मा का कहना है कि गर्मी सुबह से ही सताने लगती है। दोपहर होते-होते ऐसा लगता है कि आकाश से आग बरस रही है। ऐसे में बार-बार की बिजली कटौती के कारण रात को ठीक से नींद तक नहीं आती है। दिन भी यही हाल रहता है। लॉकडाउन के कारण अधिकतर लोग घर में ही रहते हैं इन सभी को बिजली की अघोषित कटौती ने परेशान कर रखा है। सेक्टर-15 निवासी जयदेव वर्मा का कहना है कि उन्हें रात में एसी में सोने की आदत है उनके लिए बिजली की कटौती बड़ी समस्या है। रविवार को गुरुग्राम का अधिकतम तापमान 45 और न्यूनतम 29 डिग्री सेल्सियस रहा। शनिवार को अधिकतम तापमान 45.5 डिग्री दर्ज किया गया था।

डीएलएफ क्षेत्र में अघोषित कटों से लोगों हलकान

गर्मी ने अपने तेवर दिखाए तो सुपर पॉश कालोनी डीएलएफ के फेज-1 व 2 में बिजली-पानी की किल्लत शुरू हो गई है। बिजली आपूर्ति की बात की जाए लॉकडाउन के चलते कई प्रतिष्ठान बंद हैं इसके बाद भी बिजली के अघोषित कट लगाए जा रहे है। बिजली कटौती से पेयजल संकट भी बढ़ा है। पहले जहां 45 मिनट तक पानी की आपूर्ति होती थी, वहीं अब 20-25 मिनट ही पानी आता है। सुबह-शाम बिजली नहीं रहने से कई जगह पानी भी नहीं आता है।

कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन-4 की शुरुआत के बाद से गर्मी ने भी जोर पकड़ना शुरू कर दिया। इस सप्ताह तापमान 45 डिग्री पार कर गया तो समस्या और बढ़ गई। डीएलएफ प्रबंधन की बात करें तो अंडरग्राउंड टैंक तक पूरा पानी नहीं पहुंच रहा जिसके चलते घरों तक पेयजल की आपूर्ति नहीं हो पा रही है। लोगों का कहना है कि आए दिन बिजली के 3-4 घंटे अघोषित कट लगाए जा रहे है।

ये भी पढ़ेंः Faridabad Weather News: गर्मी ने तोड़ा पिछले साल का रिकॉर्ड, नौतपा ने बढ़ाई मुश्किलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.