छह लाइसेंस कालोनियों को निगम के दायरे में लेने के लिए होगी बैठक

छह लाइसेंस कालोनियों को निगम के दायरे में लेने के लिए होगी बैठक

नगर निगम द्वारा 6 लाइसेंस कालोनियों को टेकओवर करने के लिए शुरू की गई प्रक्रिया के तहत अब नगर योजनाकार विभाग और नगर निगम के प्लानिग विभाग के अधिकारियों की बैठक 10 दिसंबर को होनी है।

JagranMon, 07 Dec 2020 07:37 PM (IST)

संवाद सहयोगी, नया गुरुग्राम: नगर निगम द्वारा 6 लाइसेंस कालोनियों को टेकओवर करने के लिए शुरू की गई प्रक्रिया के तहत अब नगर योजनाकार विभाग और नगर निगम के प्लानिग विभाग के अधिकारियों की बैठक 10 दिसंबर को होगी। इस संबंध में नगर निगम के मुख्य नगर योजनाकार (सीटीपी)ने नगर योजनाकार विभाग के सीनियर टाउन प्लानर एवं डीटीपी प्लानिग को पत्र लिखकर कालोनियों की विभिन्न जानकारियों के साथ बैठक में शामिल होने के निर्देश दिए हैं।

नगर योजनाकार विभाग से मिली जानकारी के अनुसार नगर निगम के सीटीपी कार्यालय से लाइसेंस कालोनी आरडी सिटी, मालिबू टाउन, विपुल व‌र्ल्ड, उप्पल साउथएंड, राजवुड सिटी व मेफील्ड गार्डन को टेकओवर करने के संबंध में पत्र प्राप्त हुआ है। कालोनियों को टेकओवर करने के लिए बीते छह माह से प्रक्रिया चल रही है।

बता दें कि नगर निगम की तरफ से सभी कालोनियों के सर्विस एस्टीमेट की जानकारियां मांगी गई थी ताकि उक्त कालोनियों का सर्वे कर बुनियादी सुविधाओं के इंफ्रास्ट्रक्चर की कमी की रिपोर्ट तैयार की जा सकें लेकिन नगर योजनाकार विभाग की तरफ से केवल मेफील्ड गार्डन और रोजवुड सिटी कालोनी की जानकारी ही मुहैया कराई जा सकी। अभी भी चार कालोनियों की जानकारी नहीं दी जा सकी है जिसकी वजह से कालोनी टेकओवर की प्रक्रिया धीमी पड़ी हुई है।

यहीं नहीं कालोनियों के संबंध में डीटीपी प्लानिग से कालोनी का संक्षिप्त विवरण भी मांगा गया था जिसमें जारी किए गई लाइसेंस व कालोनी के क्षेत्रफल की जानकारी, लाइसेंस के अधीन कालोनी का कुल क्षेत्रफल एरिया, कुल प्लाट की संख्या, कुल प्लाट की संख्या जिनपर निर्माण हो गया इत्यादि लेकिन आज तक नगर निगम को कोई जानकारी प्राप्त नहीं हुई। अब टेकओवर की प्रक्रिया को गति देने के लिए 10 दिसंबर दोपहर 3 बजे नगर निगम कार्यालय में बैठक रखी गई है। जिसमें नगर योजनाकार विभाग के एसटीपी, डीटीपी को शामिल करने के निर्देश दिए गए है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.