टीकाकरण का महाभियान हुआ शुरू

टीकाकरण का महाभियान हुआ शुरू

आखिर वह समय आ ही गया जिसका गुरुग्रामवासियों को ही नहीं देशवासियों को भी बेसब्री से इंतजार था। शनिवार की सुबह उन सभी के लिए खुशियों की सौगात लेकर आई जो कोविड-19 महामारी के दौरान लोगों के जीवन बचाने उनका उपचार करने को लेकर अग्रिम मोर्चा संभाल रहे थे।

JagranSat, 16 Jan 2021 07:36 PM (IST)

जागरण संवाददाता, गुरुग्राम : आखिर वह समय आ ही गया, जिसका गुरुग्रामवासियों को ही नहीं देशवासियों को भी बेसब्री से इंतजार था। शनिवार की सुबह उन सभी के लिए खुशियों की सौगात लेकर आई, जो कोविड-19 महामारी के दौरान लोगों के जीवन बचाने, उनका उपचार करने को लेकर अग्रिम मोर्चा संभाल रहे थे। पहले चरण में इन्हीं अग्रिम पंक्ति के स्वास्थ्यकर्मियों में से 600 लोगों को टीक लगाया गया। चिकित्सक से लेकर पैरामेडिकल स्टाफ के लिए कोरोना टीका लगाने का महाभियान शुरू हुआ। गुरुग्राम में छह केंद्रों पर टीकाकरण शुरू हुआ। इस दौरान स्वास्थ्यकर्मियों ने टीका लगवाया। टीके को लेकर कोई भ्रम ना रहे इसके लिए सिविल सर्जन, उप सिविल सर्जन व मेदांता अस्पताल की वरिष्ठ फिजिशियन सुशीला कटारिया ने भी टीका लगवाया।

शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उद्बोधन के बाद राष्ट्रव्यापी महाभियान शुरू हुआ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कान्फेंसिग के माध्यम से देश के सभी जिलों के स्वास्थ्यकर्मियों को संबोधित किया। गुरुग्राम के गांव वजीराबाद के राजकीय प्राथमिक विद्यालय टीकाकरण केंद्र में बड़ी स्क्रीन लगाई थी। इसके माध्यम से प्रधानमंत्री के संदेश का सीधा प्रसारण हुआ। प्रधानमंत्री ने अपने संदेश में कहा कि पहला टीका लगने के बाद दूसरा कब लगेगा, इसकी सूचना व्यक्ति को उसके मोबाइल पर एसएमएस के जरिए दी जाएगी। चिकित्सा विशेषज्ञों का कहना है कि दूसरा टीका लगने के लगभग 2 सप्ताह बाद कोरोना के विरुद्ध शरीर में जरूरी शक्ति विकसित हो सकेगी। तब तक मास्क लगाएं और दो गज की शारीरिक दूरी बनाए रखें। इस मौके पर उपायुक्त डा. यश गर्ग, सिविल सर्जन डा. विरेंद्र यादव, उप सिविल सर्जन डा. एमपी सिंह व डा. अनुज गर्ग, डा. प्रदीप, डा. जेपी राजलीवाल, जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी नरेंद्र सारवान व अन्य डाक्टर उपस्थित थे।

-------

मुख्यमंत्री ने किया संबोधित

चंडीगढ़ से मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने वीडियो कान्फेंसिग के माध्यम से मेदांता अस्पताल में बने कोरोना टीकाकरण केंद्र का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्यकर्मियों को संदेश दिया कि टीका पूर्ण रूप से सुरक्षित है। इस मौके पर मेदांता द मेडिसिटी के चेयरमैन व प्रबंध निदेशक डा. नरेश त्रेहन, मेदांता के सह संस्थापक सुनील सचदेवा व डा. सुशीला कटारिया और अन्य डाक्टर उपस्थित थे।

----

सोमवार को 46 केंद्रों पर होगा टीकाकरण सोमवार से जिले में 46 स्थानों पर स्वास्थ्यकर्मियों को यह टीका लगाया जाएगा। सप्ताह में 3 दिन सोमवार, बृहस्पतिवार और शनिवार को यह टीका लगाया जाएगा। उसके बाद दूसरे सप्ताह में टीकाकरण केंद्रों की संख्या 32 हो जाएगी। तीसरे सप्ताह में 31 केंद्रों पर टीकाकरण किया जाएगा। 25,000 स्वास्थ्यकर्मियों को वैक्सीन लगेगी। जिन स्वास्थ्यकर्मियों को शनिवार को वैक्सीन की डोज दी गई है, उन्हें एक स्लिप भी दी जा रही है जिसमें दो संपर्क नंबर लिखे होते हैं। दिक्कत होने पर व्यक्ति उनमें से किसी भी नंबर पर संपर्क कर सकता है। उनमें एक नंबर वैक्सीन लगाने वाले वैक्सीनेटर का है और दूसरा नंबर अतिरिक्त वैक्सीनेटर का है। टीका लगाते समय भी वैक्सीनेटर द्वारा व्यक्ति को बताया जा रहा है कि वह मास्क पहनना जारी रखें और सावधानी बरतें। टीका लगने के बाद व्यक्ति को आधे घंटे तक आब्जरवेशन कक्ष में रखा जा रहा है।

------

टीका लगने के बाद दो महिलाओं को हुई घबराहट गांव चौमा में कोरोना टीकाकरण केंद्र में कोवैक्सीन टीका लगाया गया। यहां पर टीका लगने के बाद दो-तीन महिलाओं को घबराहट और उल्टी की शिकायत रही। बाद में डाक्टरों के दवा देने के बाद कुछ देर बाद वह स्वस्थ हो गई। महिलाओं का कहना था कि कुछ देर घबराहट हुई थी और फिर दवा लेने के बाद ठीक हो गई। उन्होंने कहा कि अन्य महिलाओं को कुछ नहीं हुआ।

-----

छह टीकाकरण केंद्र बनाए गए गांव वजीराबाद के राजकीय प्राथमिक विद्यालय, गांव दौलताबाद राजकीय प्राथमिक विद्यालय, मेदांता अस्पताल सेक्टर 39, अर्बन पीएचसी गांव चोमा, एसजीटी मेडिकल कालेज व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गांव भांगरौला में कोरोना टीकाकरण केंद्र बनाया गया।

----------

एक केंद्र पर कोवैक्सीन और पांच पर कोविशील्ड एक केंद्र पर कोवैक्सीन और पांच पर कोविशील्ड वैक्सीन का टीका लगाया गया। गांव चौमा टीकाकरण केंद्र पर कोवैक्सीन का टीका लगाया गया। पांच अन्य केंद्रों गांव वजीराबाद, गांव दौलताबाद, मेदांता अस्पताल सेक्टर 39, एसजीटी मेडिकल कालेज, गांव भांगरौला में बनाए गए कोरोना टीकाकरण केंद्र पर कोविशील्ड टीका लगाया जाएगा।

--------

600 लोगों का हुआ टीकाकरण स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि छह केंद्रों पर 600 लोगों को टीकाकरण के लिए बुलाया गया था और कोरोना टीकाकरण के पहले दिन इन सभी लोगों ने टीका लगवाया है। हर केंद्र पर 100 लोगों ने टीका लगवाना था। जबकि कुछ केंद्रो पर सूचना मिली है कि टीका लगवाने वालों की संख्या 100 नहीं रही।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.