ट्रैफिक नियम तोड़ने के मामले तो घटे, मगर हादसों में मौतें नहीं हुईं कम

सड़क सुरक्षा जीवन रक्षा इस पंक्ति को अभी भी लोग वाहन चलाते समय ध्यान में नहीं रखते हैं। उनकी लापरवाही या तो खुद के लिए या दूसरों के लिए जान पर भारी पड़ जाती है।

JagranTue, 28 Sep 2021 04:26 PM (IST)
ट्रैफिक नियम तोड़ने के मामले तो घटे, मगर हादसों में मौतें नहीं हुईं कम

जागरण संवाददाता, गुरुग्राम: 'सड़क सुरक्षा, जीवन रक्षा' इस पंक्ति को अभी भी लोग वाहन चलाते समय ध्यान में नहीं रखते हैं। उनकी लापरवाही या तो खुद के लिए या दूसरों के लिए जान पर भारी पड़ जाती है। जुर्माना बढ़ाए जाने के बाद गुरुग्राम में पिछले साल के मुकाबले ट्रैफिक नियम तोड़ने के मामले तो कम हुए, लेकिन हादसों में मरने वालों की संख्या कमी नहीं आई है, जिसकी सबसे बड़ी वजह चालकों की रांग साइड (गलत दिशा) में वाहन चलाने की आदत नहीं छूटना है। पुलिस ने सबसे अधिक चालान रांग साइड ड्राइविग के किए हैं। हादसों की एक बड़ी वजह यही है। वर्ष 2020 में अगस्त माह तक जहां हादसों में 227 लोगों की जान गई थी, वहीं इस साल 31 अगस्त तक 236 लोग अपनी जान गवां चुके हैं। ट्रैफिक नियम का अनुपालन नहीं किया

वर्ष 2020 - 2021 (एक जनवरी से 31 अगस्त तक )

रांग साइड ड्राइविग - 39,765 - 23027

रांग पार्किंग - 37,906 - 17464

बिना लाइसेंस- 5,057 - 1,878

अंडर एज - 165 - 33

बिना आरसी- 3,222 - 1,279

बिना इंश्योरेंस - 2,747 - 1,314

बिना परमिट- 895 - 105

तय लोड से अधिक भार- 489- 108

बिना हेल्मेट- 18,858- 14048

बाइक पर बिना हेल्मेट पीछे बैठी सवारी- 15603-10237

बिना सीट बेल्ट - 11997 - 4236

ट्रैक्टर- ट्राली - 32 - 24

शराब पीकर वाहन चलाते- 435 - 0

ओवर स्पीड - 466 - 492

रेड लाइट जंप - 1236 - 574

ब्लैक फिल्म - 854 - 71

मोबाइल पर बात करते -476 -153

बिना अनुमति सायरन लगा -- 98- 89

लाल बत्ती लगा कर चलने पर - 37 - 23

बिना अनुमति लेजर लाइट - 38- 31

धूमपान - 974- 368

यात्री वाहन से माल ढुलाई - 49 - 28

जब्त किए वाहन - 3218- 1798

आटो चालान - 12153- 3912

प्राइवेट बस - 1047 - 502

मैक्सी कैब - 7964 - 4383

अन्य वाहन - 71802 - 31087

टोटल चालान - 22,1084 - 11, 2894

सड़क हादसे में हुई मौत के आंकड़े

माह- 2020- 2021

जनवरी - 46 - 30

फरवरी - 38 - 30

मार्च - 34 - 41

अप्रैल 04 - 29

मई - 12 - 23

जून- 30 - 26

जुलाई - 37 - 32

अगस्त - 26 - 25

----

कुल मौतें - 227 - 236

(दोनों साल के अगस्त माह तक आंकड़े)

सड़क हादसे रोकने के लिए समय-समय पर लोगों को जागरूक किया जाता है। लोगों की जागरूकता से ही हादसों में कमी आएगी। जब लोगों के अंदर यह भावना आ जाएगी कि उनका इंतजार उनका परिवार कर रहा है तो ट्रैफिक नियमों का पालन करने लगेंगे।

संजीव बल्हारा, एसीपी ट्रैफिक (मुख्यालय)

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.