कोरोना से जंग का पूर्वाभ्यास, स्वास्थ्य सेना तैयार

कोरोना से जंग का पूर्वाभ्यास, स्वास्थ्य सेना तैयार

दस माह पहले दस्तक देने वाले कोरोना वायरस ने लोगों को हिलाकर रख दिया। वायरस जहां एक ओर बहुत सी जिदगी लील गया वहीं लोगों को अपनी जीवन शैली बदलने के लिए मजबूर कर दिया। अब वह दिन भी आ गया कि कोरोना को मात देने के लिए दो वैक्सीन तैयार हो चुकी हैं।

JagranTue, 05 Jan 2021 04:48 PM (IST)

जागरण संवाददाता, गुरुग्राम : दस माह पहले दस्तक देने वाले कोरोना वायरस ने लोगों को हिलाकर रख दिया। वायरस जहां एक ओर बहुत सी जिदगी लील गया, वहीं लोगों को अपनी जीवन शैली बदलने के लिए मजबूर कर दिया। अब वह दिन भी आ गया कि कोरोना को मात देने के लिए दो वैक्सीन तैयार हो चुकी हैं। विषय विशेषज्ञ समिति (सीईसी) ने सीरम इंस्टीट्यूट के टीके कोविशील्ड व स्वदेशी कोवैक्सीन को इमरजेंसी इस्तेमाल की इजाजत दे दी है। प्रदेश में सबसे अधिक कोरोना मरीज गुरुग्राम में ही मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग ने वैक्सीन कोल्ड स्टोर से लेकर टीकाकरण करने के केंद्र स्थापित करने तक की व्यवस्था कर ली है। सात जनवरी से टीकाकरण का पूर्वाभ्यास (ड्राई रन) शुरू होगा। उसके बाद अगले सप्ताह से टीकाकरण की प्रक्रिया भी शुरू हो जाएगी।

------- इंफो के लिए

- सात जनवरी से पूर्वभ्यास के लिए इसके लिए गांव वजीराबाद पीएचसी, गांव भांगरौला पीएचसी व बसई इंक्लेव सरकारी स्कूल में केंद्र बनाए गए हैं।

- सुबह 9 से सुबह 11 बजे तक होगा समय

-तीनों केंद्र पर 25-25 लोगों को टीका लगाया जाएगा। जब टीकाकरण करने के आदेश होंगे, तब हर केंद्र पर 100-100 लोगों को टीका लगाया जाएगा।

- जिले में 181 स्थान चिह्नित किए गए हैं। कालेज स्कूल, सामुदायिक भवन में बूथ बनेंगे

- टीका लगने के बाद आधे घंटे तक व्यक्ति को डाक्टर की निगरानी में रखा जाएगा। हर बूथ पर निगरानी कक्ष होगा।

- अस्पतालों में विशेष व्यवस्था होगी, अन्य बीमारी के टीके लगते रहेंगे। उन्हें नहीं रोका जाएगा।

-जिले में वैक्सीन स्टोर के लिए पटौदी में 2.50 लाख वैक्सीन रखने की क्षमता वाले कोल्ड चेन की व्यवस्था की गई है। जिले में 37 वैक्सीन कोल्ड केंद्र बनाए गए हैं।

- टीकाकरण करने वाली एक टीम में 5 सदस्य रखे हैं जिसमें चिकित्सक के साथ पुलिसकर्मी, होम गार्ड या सिविल डिफेंस कर्मी, एक वैक्सीनेटर व रिकार्ड बनाने वाले सदस्य शामिल हैं।

-जिसे टीका लगेगा, उसे दो दिन पहले मोबाइल फोन पर एसएमएस से सूचित कर दिया जाएगा, किसी तरह का ओटीपी नंबर नहीं मांगा जाएगा। ओटीपी मांगने वाले ठग होंगे, जो टीके के नाम पर आनलाइन ठगी कर सकते हैं।

-एक टीका लगाने के बाद दूसरा टीका 28 दिन के बाद लगाया जाएगा

- सबसे पहले वैक्सीन टीका स्वास्थ्यकर्मी व स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़े अधिकारियों व कर्मचारियों को दिया जाएगा। शारीरिक दूरी व अन्य नियम का अनुपालन होगा

-दूसरे चरण में कोरोना योद्धाओं पुलिसकर्मी, सिविल डिफेंस, सशस्त्र सेना बल के व्यक्तियों, तीसरे चरण में 50 वर्ष या उससे अधिक आयु वाले बुजुर्ग और उसके बाद वैक्सीन उन लोगो को दी जाएगी जिनकी आयु 50 वर्ष से कम है या पहले से किसी बीमारी से पीड़ित हैं।

- पूर्वाभ्यास के दौरान डमी टीका लगेगा, वास्तविक वैक्सीन नहीं दी जाएगी।

--- टीकाकरण के पूर्वाभ्यास की तैयारी कर ली गई है। सात जनवरी को 75 कर्मियों पर ट्रायल किया जाना है। इसे बेहतर तरीके से करने के बाद अगले सप्ताह से टीकाकरण भी हो सकता है।

-डा. विरेंद्र सिंह, सिविल सर्जन गुरुग्राम

कब कितने संक्रमित मिले

मार्च- 10

अप्रैल-48

मई- 717

जून- 4573

जुलाई-3720

अगस्त-2850

सितंबर- 8904

अक्टूबर- 8444

नवंबर- 19594

दिसंबर- 7199

कोरोना से लड़ाई के दौरान रिकवरी दर 97.94 पहुंची

मृत्य दर- 0.60 रही

मरने वालों की संख्या- 344

टेस्ट हुए -6,76, 31

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.