ओसी के बाद अवैध निर्माण पर सख्ती का दिखने लगा असर, आवेदन में आई 50 प्रतिशत की कमी

नगर योजनाकार विभाग की एन्फोर्समेंट टीम के सख्ती बरतने का असर अब जमीनी स्तर पर दिखना शुरू हो गया है। नए मकान के आक्यूपेशन सर्टिफिकेट (ओसी) के आवेदन में भी 50 प्रतिशत तक कमी देखने को मिली है।

JagranThu, 02 Dec 2021 07:50 PM (IST)
ओसी के बाद अवैध निर्माण पर सख्ती का दिखने लगा असर, आवेदन में आई 50 प्रतिशत की कमी

गौरव सिगला, नया गुरुग्राम

नगर योजनाकार विभाग की एन्फोर्समेंट टीम के सख्ती बरतने का असर अब जमीनी स्तर पर दिखना शुरू हो गया है। नए मकान के आक्यूपेशन सर्टिफिकेट (ओसी) के आवेदन में भी 50 प्रतिशत तक कमी देखने को मिली है। प्लानिग विभाग की तरफ से भी फाइलों को गहराई से जांचने के बाद कमियां निकलने पर संबंधित जेई द्वारा खारिज करना शुरू कर दिया गया है।

बता दें कि महानिदेशक केएम पांडुरंग के सख्ती के आदेश के बाद 10 नवंबर को डीटीपीई (जिला नगर योजनाकार प्रवर्तन ) की तरफ से जेई की टीम गठित कर ओसी जारी करने के 10 दिन और 45 दिन के बाद निरीक्षण करने के आदेश जारी किए थे। निरीक्षण शुरू होते ही बीते 15 दिनों में एन्फोर्समेंट टीम की तरफ से छह से अधिक लाइसेंस कालोनियों में 50 से अधिक मकानों के ओसी रद, मकानों की सीलिग और एफआईआर दर्ज कराने की कार्रवाई की गई है। 45 फाइलों पर दर्ज की आपत्ति

डीटीपी प्लानिग की तरफ से बीते एक माह में डीएलएफ फेज-एक में 11, डीएलएफ फेज-दो में छह, डीएलएफ फेज-तीन, चार, अंसल एसेंसिया, ग्रीनवुड सिटी, मालिबू टाउन, पालम विहार, वाटिका इंडिया नेक्सट में सात, मेफील्ड गार्डन में तीन, रोजवुड सिटी में तीन, साउथ सिटी एक में चार, सुशांत लोक एक में पांच, सुशांत लोक दो में तीन, और विपुल व‌र्ल्ड में तीन समेत कुल 45 मकानों की फाइलों में आपत्ति दर्ज की गई है। आर्किटेक्ट को भी दिए नोटिस

डीटीपी प्लानिग की तरफ से 10 आर्किटेक्ट को भी नोटिस जारी किए गए हैं। इनके द्वारा ओसी की आधी-अधूरी फाइलों के लिए आवेदन किया गया। कुछ फाइलों में तो बिल्डिग कोड के नियमों का उल्लंघन किया हुआ था। नोटिस जारी कर पूछा गया है कि क्यों न आर्किटेक्टस के खिलाफ लाइसेंस रद्द करने की कार्रवाई की जाये। ओसी आवेदन में आई कमी

सितंबर माह में 150, अक्टूबर माह में 145 और नवंबर माह में कुल 80 फाइलें ओसी आवेदन की प्राप्त हुई हैं। जबकि बीते 15 दिनों में कुल 23 फाइलें ही प्राप्त हुई हैं। इन आंकड़ों से सख्ती का असर दिखना शुरू हो गया है। बिल्डिग कोड के नियमों के हिसाब से ही ओसी जारी किए जा रहे है। यदि आधी-अधूरी फाइलों का आवेदन करते है तो आर्किटेक्ट को मकान मालिक दोनों को ही नोटिस भेजे जा रहे है। लोगों से अपील है कि इमारत पूरी होने पर ही ओसी का आवेदन करें नहीं तो कार्रवाई होगी।

संजय कुमार, डीटीपी प्लानिग ओसी के बाद अवैध निर्माण करने पर तोड़-फोड़, सीलिग और मकान मालिक के खिलाफ सीधा एफआइआर दर्ज करने की कार्रवाई की जा रही है। अलग से ईमेल आईडी बना आरडब्ल्यूए और आमजन से भी अपील अवैध निर्माण की जानकारी देने की अपील की गई है।

आरएस बाठ, डीटीपीई

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.