top menutop menutop menu

..तो पूरा होने से पहले ही कर दिया व्यायामशाला का उद्धघाटन

संवाद सूत्र, कुलां :

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने रविवार को वीडियो कान्फ्रेसिग से जिले में सात व्यायामशालाओं का उद्घाटन किया। जिसमें कुलां गांव में आधी अधूरी व्यायामशाला व खाली मैदान में ही उद्धघाटन की औपचारिकता पूरी कर ग्रामीणों को सौंप दी गई। युवाओं को खेलों की ओर अग्रसर करने एवं ग्रामीणों का स्वास्थ्य स्वस्थ रखने के उद्देश्य से व्यायाम करने के लिए कुलां में लाखों रुपये खर्च कर बनाई व्यायामशाला में अभी योग कराने के लिए योग शिक्षक की नियुक्ति करना तो दूर, बल्कि योग करने के लिए अभी ठिकाना ही तैयार नहीं हुआ है। मात्र शेड डालकर व पहले से बनी पुरानी चहारदीवारी पर ही रंगाई पुताई कर व्यायामशाला निर्माण की औपचारिकता पूरी कर दी गई। यहां तक कि व्यायामशाला में अभी विद्युत व पेयजल की व्यवस्था तक नहीं की गई है। ट्रैक का कार्य भी अधूरा पड़ा है। ऐसे में सवाल ये उठता है कि सीएम द्वारा आखिर अधूरी व्यायामशाला का निर्माण कैसे कर दिया गया। कुलां में पहले से स्थित खेल मैदान की करीब 2 एकड़ जगह में व्यायामशाला के लिए 20 लाख रुपये राशि स्वीकृत हुई थी। गांव के युवा खिलाड़ियों ने बताया कि व्यायामशाला के ग्राउंड को अभी तक समतल नहीं किया गया है। ओपन जिम व लाइटिग का कार्य भी शेष है। व्यायामशाला में अभी मंच भी तैयार नहीं है। जहां हाल में अभी भी टाइलों का ढेर लगा हुआ है।

----------------------------------

पुरानी चहारदीवारी के बीच तैयार की व्यायामशाला

व्यायामशाला निर्माण में ठेकेदार द्वारा पहले से बनी पुरानी चहारदीवारी पर ही लीपापोती की गई है। उद्घाटन से 1 दिन पहले पुरानी चहारदीवारी को रंग कर छुपा दिया गया। सवाल ये है कि व्यायामशाला निर्माण के लिए पुरानी चहारदीवारी का ही टेंडर हुआ था, या फिर ठेकेदार द्वारा मिलीभगत से पुरानी चहारदीवारी को रिकॉर्ड में नया दर्शाया गया है। इसका जवाब चाहे जो भी हो, जबकि गांव के युवा खिलाड़ियों का कहना है कि जब व्यामशाला निर्माण पर लाखों रुपए बजट खर्च किया जा रहा है तो पुरानी चहारदीवारी का कोई औचित्य ही नहीं है। बताते चलें कि ये चहारदीवारी बरसों पुरानी है। तत्कालीन हुड्डा सरकार के कार्यकाल दौरान यहां खेल मैदान की चहारदीवारी का निर्माण किया गया था। ऐसे में जाहिर है कि चहारदीवारी इतनी पुरानी स्थिति में होने के चलते ज्यादा लंबा समय तक नहीं चल सकेगी।

---------------------------------

कुछ जगहों पर बजट के अभाव में व्यायामशाला का कार्य अभी अधूरा है। सरकार की तरफ से बजट जारी करा शीघ्र ही व्यायामशाला का कार्य पूर्ण करा दिया जाएगा। इसके अलावा यदि किए गए निर्माण कार्यो में कोई धांधली की गई है तो इसकी जांच कराई जाएगी। निर्माण कार्यों में किसी प्रकार की गड़बड़ी को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा

देवेंद्र सिंह बबली, विधायक, टोहाना

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.