दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

कोरोना की रोकथाम और बचाव के लिए जरूरी कदम उठाने के दिए दिशा-निर्देश

कोरोना की रोकथाम और बचाव के लिए जरूरी कदम उठाने के दिए दिशा-निर्देश

हरियाणा के बिजली अक्षय ऊर्जा व जेल एवं फतेहाबाद जिला के नोडल प्रभारी चौधरी रणजीत सिंह ने रविवार को भूना रोड स्थित पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में अधिकारियों के साथ बैठक कर जिला में कोविड-19 की स्थिति व प्रबंधों की समीक्षा की और अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए व मार्गदर्शन किया।

JagranMon, 10 May 2021 07:21 AM (IST)

जागरण संवाददाता, फतेहाबाद :

हरियाणा के बिजली, अक्षय ऊर्जा व जेल एवं फतेहाबाद जिला के नोडल प्रभारी चौधरी रणजीत सिंह ने रविवार को भूना रोड स्थित पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में अधिकारियों के साथ बैठक कर जिला में कोविड-19 की स्थिति व प्रबंधों की समीक्षा की और अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए व मार्गदर्शन किया।

उन्होंने कहा कि जागरूकता कोरोना महामारी को भगाने में सार्थक सिद्ध होगी। इसलिए अधिकारी जिला के हर नागरिक को कोविड-19 के संक्रमण से बचाव बारे जागरूक करें। जिला के सभी गांवों, दूरदराज की ढाणियों में रहने वाले लोगों तथा शहरों व कस्बों में मुनियादी करवाए और समाजसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधियों व युवा क्लबों को भी इसमें शामिल करें। इस अवसर पर स्थानीय विधायक दुड़ाराम व उपायुक्त डॉ. नरहरि सिंह बांगड़ सहित अन्य अधिकारी भी उपस्थित रहे।

----------------------

कमेटी का करे गठन

बिजली मंत्री रणजीत सिंह ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि गांव के प्रबुद्ध एवं मौजूदा नागरिकों की कमेटी गठित करें। इसके अतिरिक्त गांवों में बने युवा क्लबों व नेहरू युवा केंद्रों के वॉलिटियर्स का पूर्ण सहयोग लेते हुए आमजन मानस को जागरूक करें। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग, पुलिस सहित संबंधित विभाग के अधिकारी आपसी तालमेल के साथ कार्य करें। नागरिक अपने घरों में ही रहें, ज्यादा आवश्यकता पड़ने पर ही प्रशासन की अनुमति लेकर अपने जरूरी कार्य करें। सरकार द्वारा समय-समय पर जारी होने वाली हिदायतों का पालन करें। उन्होंने कहा कि प्रदेश के ऐसे कोविड मरीज जो गरीबी रेखा से नीचे हैं व आयुष्मान भारत योजना के तहत सुविधा प्राप्त नहीं कर रहे हैं, को प्रदेश सरकार द्वारा कोविड उपचार अधिकृत निजी अस्पतालों में उपचार के लिए प्रतिदिन प्रति मरीज 5000 रुपये की सब्सिडी दी जाएगी जोकि अधिकतम 35000 रुपये प्रति मरीज होगी। यह राशि मरीज के डिस्चार्ज होने के समय बिल से घटा दी जायेगी।

------------------------

जिले में लॉकडाउन का करवाया जा रहा पालन

बैठक में उपायुक्त डा. नरहरि सिंह बांगड़ ने बिजली मंत्री को जिला में कोविड-19 के संबंध में किए जा रहे प्रबंधों व व्यवस्थाओं के बारे में अवगत करवाया। उन्होंने कहा कि सरकार व प्रशासन की ओर से कोरोना संक्रमित लोगों के स्वास्थ्य लाभ के लिए हरसंभव सहयोग दिया जा रहा है। उपायुक्त ने कहा कि जिलावासियों से भी इस कोरोना महामारी एवं आपदा के समय में डटकर मुकाबला करने के लिए जागरूक किया जा रहा है। जिला नोडल प्रभारी एवं बिजली मंत्री को आश्वस्त करते हुए कहा कि कोविड-19 संक्रमित व्यक्तियों व विभिन्न बीमारियों से ग्रस्त व्यक्तियों के उपचार के लिए स्वास्थ्य विभाग व प्रशासन द्वारा कोई कोर कसर नहीं छोड़ी जाएगी। यह रहे मौजूद

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार, पूर्व चेयरमैन जगदीश चोपड़ा, डा. वीरेन्द्र सिवाच, एसडीएम कुलभूषण बंसल, संयुक्त आबकारी एवं कराधान आयुक्त मयंक भारद्वाज, सीटीएम अंकिता वर्मा, सीएमओ डा. वीरेश भूषण, डीएसपी दलजीत बेनीवाल, डिप्टी सीएमओ डा. हनुमान सिंह, डा. गिरीश, एसएचओ सुरेन्द्र कंबोज, हंसराज सचदेवा, विजय गोयल आदि मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.