मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत मेला आयोजित, 444 को किया फोन, मेले में पहुंचे सिर्फ 150

जागरण संवाददाता फतेहाबाद मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के लाभार्थियों को सरका

JagranPublish:Mon, 29 Nov 2021 10:45 PM (IST) Updated:Mon, 29 Nov 2021 10:45 PM (IST)
मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत मेला आयोजित, 444 को किया फोन, मेले में पहुंचे सिर्फ 150
मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत मेला आयोजित, 444 को किया फोन, मेले में पहुंचे सिर्फ 150

जागरण संवाददाता, फतेहाबाद :

मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के लाभार्थियों को सरकारी योजनाओं को लाभ देने के लिए स्थानीय पंचायत भवन में अंत्योदय मेले का आयोजन किया गया। प्रदेश सरकार द्वारा नियुक्त मेले के नोडल अधिकारी नगर निगम हिसार के आयुक्त अशोक गर्ग और उपायुक्त प्रदीप कुमार ने निरीक्षण किया और लाभार्थियों से बातचीत की। अंतोदय मेले में नगर परिषद फतेहाबाद के अंतर्गत आने वाले मुख्यमंत्री अंतोदय परिवार उत्थान योजना के लाभार्थी परिवारों के विभिन्न विभागों की योजनाओं के लिए आवेदन लिए गए। इस मेले में उन लोगों को बुलाया गया था जिन्होंने परिवार पहचान पत्र में वार्षिक आय कम भरी थी। फतेहाबाद नगरपरिषद के अधीन ऐसे 500 लोग थे। नप की तरफ से पिछले दो दिनों से इन लोगों को फोन करके सूचित भी किया गया। लेकिन लोगों का रुझान कम ही नजर आया। इस मेले में करीब 150 के करीब लोग ही पहुंचे। इस मेले में लोगों को सरकार द्वारा चलाई जा रही योजना की जानकारी देने के साथ ही उन्हें आर्थिक सहायता उपलब्ध करवानी थी। वार्षिक आए बढ़ाने के उद्देश्य से आयोजित हुआ मेला

नोडल अधिकारी एवं नगर निगम हिसार के आयुक्त अशोक गर्ग ने मेले में मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के अंतर्गत आने वाले लाभार्थी परिवारों को संबंधित योजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी ली। उन्होंने अधिकारियो को निर्देश दिए कि इन मेलों के माध्यम से गरीब परिवारों को उनकी रूचि के अनुसार योजना के साथ जोड़कर उनकी आय बढ़ाने का कार्य किया जाएगा। इसलिए प्रार्थी को उनकी जरूरत के अनुसार सरकार की योजना से जोड़ा जाए।

उन्होंने कहा कि यह सरकार की महत्वकांक्षी योजना है। इस योजना के तहत गरीब से गरीब परिवार की आमदनी को पहले चरण में एक लाख रूपये तथा दूसरे चरण में एक लाख 80 हजार रूपये तक पहुंचाना है। इस योजना का उद्देश्य गरीब परिवारों को रोजगार देना, स्वरोजगार के लिए प्रोत्साहित करना, कौशल विकास को बढ़ावा देना तथा बैंकों से ऋण मुहैया करवाना मुख्यत शामिल है ताकि गरीब व्यक्ति आत्मनिर्भर हो सकें। सुभाष बराला ने किया निरीक्षण

हरियाणा सार्वजनिक उपक्रम ब्यूरो के चेयरमेन सुभाष बराला ने मेले का निरीक्षण किया। जिला को 12 जोन में बांटा गया है। इनमें से पांच शहरी और सात ग्रामीण स्तर के जोन शामिल है। प्रत्येक जोन के लिए जोनल नोडल अधिकारी लगाए गए है जो इस योजना के लाभार्थियों को लाभ पहुंचाने के लिए काम कर रहे है। पंचायत भवन में आयोजत मेले में फतेहाबाद नगर परिषद के 444 परिवारों को केंद्रीत संदेश भेजा गया है। इस मेले में 150 लाभार्थी ने अपने आवेदन दिए है। इन आवेदनों पर विभिन्न विभागों ने अपनी योजनाओं को लाभ देने की प्रक्रिया शुरू की है। गरीब लोगों को स्कीम से जोड़ने का मुख्य उद्देश्य

सभी विभागों के अधिकारी मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत पात्र व्यक्तियों को किसी ना किसी स्कीम से जोड़कर उन्हें लाभ पहुंचाना सुनिश्चित करने के आदेश दिए है। किसी भी व्यक्ति को अंत्योदय ग्रामोदय मेलों से निराश होकर ना जाने दे, उन्हें हर संभव सरकार की योजनाओं का लाभ पहुंचाए।

उपायुक्त प्रदीप कुमार ने बताया कि जिला में कोई भी परिवार गरीब न रहे और गरीब से गरीब परिवार का जीवन स्तर बेहतर बन सके और लाभार्थियों को योजनाओं का लाभ लेने संबंधी पूरा विवरण देने व उन्हें जल्द से जल्द योजना संबधी ऋण स्वीकृति पत्र प्रदान करने के लिए इन मेलों का आयोजन किया जा रहा है। मेलों के पहले चरण में लाभार्थियों से आवेदन प्राप्त कर उन्हें बैंक द्वारा अनुमति की कार्यवाही की जाएगी तथा दूसरे चरण में यह अनुमति पत्र लाभार्थी को प्रदान कर स्कीम का लाभ दिया जाएगा। इस अवसर पर विभिन्न विभागों ने अपने-अपने विभाग की योजनाओं संबंधित डेस्क लगाए और विभाग की योजनाओं से जोड़ने के लिए आवेदन लिए। इस मौके पर अतिरिक्त उपायुक्त अजय चोपड़ा, सचिव आरटीए शालिनी चेतल, एसडीएम राजेश कुमार, सीटीएम अंकिता वर्मा, ईओ ऋषिराज, बीडीपीओ विनय प्रताप, नरेद्र सिंह सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।