दो वर्ष पहले बनी सड़क हुई जर्जर, ग्रामीण परेशान

जागरण संवाददाता, बल्लभगढ़: गांव बहादरपुर से चांदपुर जाने वाली सड़क की हालत जर्जर है, जहां से ग्रामीणों को वाहन लेकर निकलने में दिक्कत हो रही है। रात को अंधेरे में दिखाई न देने पर गड्ढों से निकलते समय दोपहिया वाहन चालक फिसलकर गिरने से चोटिल हो रहे हैं। शिकायत करने पर प्रशासनिक अधिकारी सुनवाई नहीं कर रहे हैं।

गांव बहादरपुर से चांदपुर जाने वाली सड़क तीन किलोमीटर लंबी है। मार्केटिग बोर्ड पांच किलोमीटर तक सड़कों का निर्माण करता है। ये सड़क भी मार्केटिग बोर्ड के अंतर्गत आती है। सड़क दो साल पहले ही बनाकर तैयार किया था। सड़क बनने से कई गांवों के लोगों को लाभ हुआ था। अब सड़क गड्ढों में तबदील हो गई है। जिसके चलते ग्रामीण दूसरे रास्ते से होकर आगे जा रहे हैं। सड़क बनाने में घटिया समाग्री का प्रयोग करने के कारण कुछ दिन बाद उखड़ने लगी। इसकी शिकायत मार्केटिग बोर्ड के अधिकारियों से की, तो जल्द दोबारा बनाने की बात कहकर पल्ला झाड़ लिया। अभी तक सड़क की बात तो दूर, मरम्मत तक नहीं की है। इससे ग्रामीण वाहन लेकर निकलने से हिचकिचाते हैं।

-कुलदीप बहादरपुर से चांदपुर जाने वाली सड़क टूटने से जगह-जगह गड्ढे बने हुए है। वाहनों के निकलने से धूल उड़ने से दुपहिया वाहन चालक व पैदल चलने वाले लोगों को परेशानी हो रही है। बारिश होने पर गड्ढों में पानी जमा होने से दिखाई नहीं देने पर दुपहिया वाहन चालक अनियंत्रित होकर गिरने से चोटिल हो रहे हैं।

-सूरजपाल गांव बहादरपुर से चांदपुर जाने वाली सड़क के बारे में जानकारी नहीं है। संबंधित क्षेत्र के उपमंडल अधिकारी को मौका मुआयना कर रिपोर्ट लेने के बाद ही सड़क के बारे में बताया जा सकता है। रिपोर्ट मिलने पर उसे बनाने के लिए इस्टीमेट बनाकर भेजा जाएगा।

-रमेश देशवाल, कार्यकारी अभियंता मार्केटिग बोर्ड फरीदाबाद।

1952 से 2020 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.