खोरी बस्ती में मकान कर गए खाली मगर कब्जा छोड़ने को तैयार नहीं लोग, पढ़िए क्या उपाय कर रहे लोग

खोरी बस्ती में मकान खाली करने वाले लोग अपने सामान को सुरक्षित स्थान पर शिफ्ट करने में लगे हैं लेकिन अभी तक कब्जा नहीं छोड़ा है। कई लोगों ने खाली मकान पर ताला दिया है और अपने-अपने मूल निवास की ओर चले गए हैं। कई गलियों में सन्नाटा रहा।

Vinay Kumar TiwariFri, 18 Jun 2021 03:54 PM (IST)
कई लोगों ने खाली मकान पर ताला दिया है और अपने-अपने मूल निवास की ओर चले गए हैं।

फरीदाबाद, जागरण संवाददाता। खोरी बस्ती में मकान खाली करने वाले लोग अपने सामान को सुरक्षित स्थान पर शिफ्ट करने में लगे हैं, लेकिन अभी तक कब्जा नहीं छोड़ा है। बुधवार को बहुत से लोग किराये के वाहन मंगवा कर सामान लोड करते नजर आए। कई लोगों ने खाली मकान पर ताला दिया है और अपने-अपने मूल निवास की ओर चले गए हैं।

कई गलियों में सन्नाटा रहा। तोड़फोड़ की कार्रवाई के दौरान होने वाले नुकसान से बचने के लिए कई लोगों ने घर के लोहे के दरवाजे तथा खिड़कियां खुद ही उखाड़ ली हैं। खोरी निवासी बैजनाथ ने बताया कि वह मुंगेर, बिहार के मूल निवासी हैं। यहां काम-धंधे के सिलसिले में रह रहे हैं।

उन्होंने अब मजबूरी में तुगलकाबाद में किराये पर मकान लिया है, मगर उन्होंने खोरी के मकान से कब्जा नहीं छोड़ा है। नबी आलम ने बताया कि उन्होंने तुगलकाबाद एक्सटेंशन में किराये पर मकान लिया है। यहां तो अब बिजली आपूर्ति भी नहीं हो रही है। पहले दिल्ली से उनके यहां बिजली की आपूर्ति की जाती थी। चंदन शर्मा ने बताया कि उन्होंने लकड़पुर में मकान शिफ्ट कर लिया है। कई लोगों का कहना है कि अगर कार्रवाई होगी, तो वह दूसरी जगह चले जाएंगे, नहीं तो फिर से यहां आकर बस जाएंगे।

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर नगर निगम को खोरी बस्ती में तोड़फोड़ की कार्रवाई करनी है। कार्रवाई करके छह हफ्ते में रिपोर्ट देनी है।निगमायुक्त ने अपने हाथ में ली कमानखोरी बस्ती की तोड़फोड़ की कार्रवाई की कमान निगमायुक्त डा.गरिमा मित्तल ने अपने हाथ में ले ली है। संयुक्त आयुक्त का कार्यभार देख रहे जितेंद्र कुमार सहयोग कर रहे हैं। पहले नगर निगम के एनआइटी के संयुक्त आयुक्त प्रशांत अटकान तोड़फोड़ की तैयारी में आगे थे।

निगमायुक्त डा. गरिमा मित्तल ने जितेंद्र कुमार के साथ कार्रवाई के मुद्दे पर बैठक भी की और कार्रवाई को अंजाम देने के लिए रणनीति तैयार की है।खोरी में पुलिस का डेराखोरी बस्ती में तोड़फोड़ की कार्रवाई का विरोध करने के लिए लोग सड़क पर न उतरें, इससे निपटने के लिए पुलिस ने सूरजुकंड रोड पर डेरा डाला हुआ है।

पुलिस और नगर निगम की ओर से खोरी में पहले ही अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई करने को मुनादी करा दी है।हमने खोरी बस्ती में अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई की तैयारी पूरी कर ली है। हमने लोगों को मौका दिया है कि वे अपने मकान का सामान स्वयं ही हटा लें, ताकि किसी का नुकसान न हो। हम जल्दी ही कार्रवाई करेंगे। सुप्रीम कोर्ट के आदेश की पालना की जाएगी।

-डा. गरिमा मित्तल, निगमायुक्त।

पुरानी जगह पर अब भी कब्जा

नगर निगम ने दो अप्रैल को खोरी में जिन मकानों की तोड़फोड़ थी। लोग अब भी उस जगह कब्जा किए बैठे हैं। कई लोगों ने चारपाई बिछा कर उस जगह कब्जा किया हुआ है, तो कई लोग दरी-चादर लेकर वहां जमा हुए हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.