फरीदाबाद पहुंचे हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला, कांग्रेस विधायक को किया गया नजरबंद

पूर्व पार्षद जगन डागर के निवास पर विधायक नीरज शर्मा को पुलिस ने किया कैद

तीन कृषि सुधार कानूनों का विरोध कर रहे कांग्रेस नेताओं ने मंगलवार को उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला को काले झंडे दिखाने की योजना बना रखी थी पर सूचना मिलने पर पुलिस ने उन्हें घर में शाम तक कैद कर दिया।

Mangal YadavTue, 02 Mar 2021 01:03 PM (IST)

फरीदाबाद [सुशील भाटिया]। हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला जिला परिवाद और कष्ट निवारण समिति की बैठक में शामिल होने के लिए फरीदाबाद पहुंचे। दुष्यंत चौटाला के शहर में होने की वजह से सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई थी। इस बीच कांग्रेस के विधायक नीरज शर्मा और पूर्व पार्षद व कांग्रेस नेता जगन डागर को पुलिस ने नजरबंद कर दिया। दरअसल, तीन कृषि सुधार कानूनों का विरोध कर रहे कांग्रेस नेताओं ने मंगलवार को उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला को काले झंडे दिखाने की योजना बना रखी थी, पर सूचना मिलने पर पुलिस ने उन्हें घर में शाम तक कैद कर दिया।

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला जिला परिवाद कष्ट निवारण समिति की अध्यक्षता करने और उद्योगपतियों के साथ संवाद के चलते शहर में थे। सूचना मिलने पर बड़ी संख्या में पुलिस सेक्टर-7 में पूर्व पार्षद व वरिष्ठ कांग्रेस नेता जगन डागर के घर पहुंच गई। यहीं पर एनआइटी के कांग्रेस विधायक नीरज शर्मा भी थे और बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता भी हाथों में काले झंडे उठाए हुए थे। इससे पहले कि सभी बाहर निकलते, पुलिस उन तक पहुंच गई और फिर शाम तक वहीं डेरा डाले रही। 

शाम को जब उपमुख्यमंत्री शहर से निकल गए, उसके बाद पुलिस वहां से निकली। पूर्व पार्षद डागर व नीरज शर्मा ने इसका विरोध भी किया, पर पुलिस ने उनकी नहीं सुनी। इसी तरह से गांव दयालपुर के बबलू हुड्डा को पुलिस ने उनके घर से बाहर नहीं निकलने दिया।

किसानों के मुद्दे पर दिखाना चाहते काले झंडे

मिली जानकारी के मुताबिक कांग्रेस विधायक नीरज शर्मा और काग्रेस कार्यकर्ता केंद्र के तीनों कृषि कानून के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराने के लिए डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला को काले झंडे दिखाना चाहते थे। कांग्रेस नेता डिप्टी सीएम का विरोध कर किसानों के मुद्दे पर उनका ध्यान आकर्षित करना चाहते थे। कांग्रेस नेताओं का कहना है कि चौटाला हरियाणा सरकार में भाजपा के साथ हैं और उन्हें केंद्र पर किसानों के मुद्दे पर दबाव बनाना चाहिए। 

य़े भी पढ़ेंः दुष्यंत चौटाला का तंज, सोनिया गांधी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की तैयारी में हैं पूर्व सीएम 

 ये भी पढ़ेंः Rakesh Tikait व प्रदर्शनकारियों के खिलाफ फूटा ग्रामीणों का गुस्सा, दी ये चेतावनी

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.