सेक्सटार्शन के चक्कर में फंसा सीनियर मैनेजर, गंवाए 32 लाख रुपये

सेक्टर-29 निवासी एक सेवानिवृत सीनियर मैनेजर सेक्सटार्शन करने वाले साइबर ठगों के चंगुल में फंस गए।

JagranSat, 04 Dec 2021 07:03 PM (IST)
सेक्सटार्शन के चक्कर में फंसा सीनियर मैनेजर, गंवाए 32 लाख रुपये

जागरण संवाददाता, फरीदाबाद: सेक्टर-29 निवासी एक सेवानिवृत सीनियर मैनेजर सेक्सटार्शन करने वाले साइबर ठगों के चंगुल में फंस गए। उन्होंने अपने 32 लाख रुपये गंवा दिए। अब साइबर थाना पुलिस को शिकायत देकर मुकदमा दर्ज कराया है। सेवानिवृत सीनियर मैनेजर से एक युवती ने फेसबुक पर दोस्ती की। दोस्ती गहरी होने के बाद युवती पीड़ित से वाट्स-एप पर वीडियो काल करने लगी। वीडियो काल पर दोनों अंतरंग बातें करने लगे। युवती ने पीड़ित के कपड़े उतरवाकर उसका वीडियो रिकार्ड कर लिया। इसके बाद वीडियो वायरल करने की धमकी देकर उससे रुपये मांगने शुरू कर दिए। डर के मारे पीड़ित ने युवती का मोबाइल नंबर ब्लाक कर दिया।

कुछ दिन बाद युवती के साथी ने साइबर क्राइम इंचार्ज विक्रम सिंह राठौर बनकर काल किया। काल करने वाले व्यक्ति ने बताया कि पीड़ित का वीडियो यूट्यूब पर अपलोड हो रहा है। पीड़ित ने उस वीडियो को हटाने के लिए मदद करने को कहा तो आरोपित ने 20 हजार रुपये मांगे। पीड़ित ने रुपये भेज दिए। इसके बाद ठगों ने वीडियो को फेसबुक, इंस्टाग्राम व पांच पोर्न साइट पर होने की बात कही। ये वीडियो फेसबुक और इंस्टाग्राम से हटाने की एवज में 11.44 लाख रुपये व पांच पोर्न साइट से हटवाने के लिए 18.76 लाख रुपये मांगे। लोकलाज के डर से पीड़ित ने रुपये बताए गए बैंक खातों में ट्रांसफर कर दिए। ठगों ने पहले पीड़ित को साइबर क्राइम प्रभारी बनकर ठगा। इसके बाद कहा कि जिस लड़की से आपकी बात हो रही थी। उसने आत्महत्या कर ली है। अब आपके खिलाफ मुकदमा दर्ज होगा। इस तरह डराकर साइबर ठग पीड़ित से रुपये मांगते रहे। इसके बाद उनसे कहा गया कि अब ये केस डीसीपी स्तर के अधिकारी के पास ट्रांसफर हो गया है। ऐसे में उनके पैसे वो ही वापस दिलवाएंगे। पीड़ित जब परेशान हो गया तो उसने साइबर थाने आकर मामले की शिकायत की। साइबर थाना पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। साइबर थाना प्रभारी बसंत कुमार का कहना है कि इस मामले में आरोपितों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। बड़े स्तर पर हो रहा है सेक्सटार्शन:

दिल्ली-एनसीआर में सेक्सटार्शन के मामले बड़े स्तर पर हो रहे हैं। एक साल के इस तरह के इतने मामले सामने आए हैं कि साइबर पुलिस भी परेशान हो गई है। साइबर ठग लड़की की फेक प्रोफाइल बनाकर लोगों को पहले फेसबुक-इंस्टाग्राम पर दोस्त बनाते हैं। फिर अश्लील वीडियो काल करके लोगों को रिझाते हैं। जैसे ही कोई व्यक्ति इनके झांसे में आ जाता है। वैसे ही बदमाश उसकी अश्लील वीडियो रिकार्ड कर उसे ब्लैकमेल करने लगता है। पीड़ित लोगों से उनके वीडियो डिलीट करने के एवज में पैसे मांगे जाते हैं। पैसे न देने पर उनके वीडियो को सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी दी जाती है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.