गलत दवा देने से हुई मौत, क्लीनिक संचालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज

छह महीने पहले गलत दवा देने हुए एक नवयुवक की मौत के मामले में पुलिस ने क्लीनिक संचालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

JagranMon, 29 Nov 2021 08:14 PM (IST)
गलत दवा देने से हुई मौत, क्लीनिक संचालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज

जागरण संवाददाता, बल्लभगढ़: छह महीने पहले गलत दवा देने हुए एक नवयुवक की मौत के मामले में पुलिस ने क्लीनिक संचालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। अमित यादव ने थाना आदर्श नगर पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसके 16 वर्षीय बेटा आकाश यादव की एड़ी में 22 मई-2021 को कील चुभ गई थी। वह अपने बेटा को मलेरना रोड आदर्श नगर स्थित डा. योगेंद्र रावत की रावत क्लीनिक पर ले गए थे। योगेंद्र रावत ने उसके पैर पर पट्टी कर दी और अपने पास से ही दवा दे दी। रावत की दवा से उसे आराम नहीं हुआ, तो उन्होंने आकाश को 23-मई को एक निजी अस्पताल में भर्ती करा दिया। यहां पर भी उसे आराम नहीं पड़ा, तो उसे 24 मई को सेक्टर-8 के एक निजी अस्पताल में भर्ती करा दिया। 25 मई-2021 को उसकी अस्पताल में मौत हो गई। तब से ही योगेंद्र रावत ने अपना क्लीनिक बंद कर दिया और कहीं दूसरे स्थान पर किसी दूसरे नाम से क्लीनिक चला रहा है। उसके पास किसी को दवा देने का कोई प्रमाण पत्र नहीं है। वह लोगों के जीवन से खिलवाड़ कर रहा है। इस मामले में सीएम विडो और सीएमओ से शिकायत की है। आकाश यादव का पोस्टमार्टम बोर्ड द्वारा कराया गया है। बोर्ड की रिपोर्ट में आकाश की मौत के लिए योगेंद्र रावत को दोषी ठहराया है। पुलिस ने उसकी शिकायत पर मुकदमा दर्ज किया है। थाना प्रभारी संदीप सिंह का कहना है कि उन्होंने मामले की जांच शुरू कर दी है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.