जिले में तैयार होंगे डेडिकेटेड कोविड केयर सेंटर

जिले में तैयार होंगे डेडिकेटेड कोविड केयर सेंटर

कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने जिले में 19 जगह डेडिकेटेड कोविड केयर सेंटर बनाए हैं।

Publish Date:Sun, 05 Jul 2020 05:42 PM (IST) Author: Jagran

अभिषेक शर्मा, फरीदाबाद

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर स्वास्थ्य विभाग जिले में 19 जगह डेडिकेटेड कोविड केयर सेंटर बनाने जा रहा है। इनमें से बिना लक्षण को कोरोना मरीजों को रखे जाने की योजना है। अब मरीजों को होम आइसोलेशन में नहीं रखा जाएगा। स्वास्थ्य विभाग ने 4610 बेड का डेडिकेटेड कोविड केयर सेंटर बनाने की योजना तैयार की है।

उल्लेखनीय है कि जिले में अब कोरोना के बिना लक्षण वाले मरीज अधिक संख्या में मिल रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग इन्हें कोविड अस्पताल में भर्ती कराने की बजाय होम आइसोलेशन में रख रहा है। इससे भय रहता है कि संक्रमित परिवार के अन्य सदस्य भी संक्रमित न हो जाएं। इसी के चलते सरकार ने डेडिकेटेड कोविड केयर सेंटर बनाने का फैसला किया। कोरोना के बिना लक्षणों वाले मरीजों को यहां भर्ती किया जाएगा। यहां पर रहने वाले संक्रमितों को 15 दिन बाद डिस्चार्ज किया जाएगा। 754 हैं सक्रिय मरीज

जिले में वर्तमान में 753 सक्रिय मरीज है। इनमें से 375 मरीजों को होम आइसोलेशन में रखा गया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, अगस्त से लेकर नवंबर तक कोरोना संक्रमितों की संख्या में कई गुना वृद्धि होने की आशंका है और बिना लक्षणों वाले मरीजों की संख्या अधिक होगी। बॉक्स..

डेडिकेटेड कोविड केयर सेंटर बेड संख्या

आर्य विद्या मंदिर 400

जेसी बोस यूनिवर्सिटी 180

बालाजी पब्लिक स्कूल मलेरना रोड 368

पाइनवुड स्कूल 250

डीएवी पब्लिक स्कूल बल्लभगढ़ 360

ग्लोबल हेरिटेज स्कूल 200

टैगोर अकादमी 584

अल्फला मेडिकल कॉलेज 50

रावल पब्लिक स्कूल 256

अग्रवाल पब्लिक स्कूल 640

सुधा रस्तोगी डेंटल कॉलेज हॉस्टल 65

अरावली पब्लिक स्कूल, अनंगपुर 80

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, तिगांव 17

डीपीएस सेक्टर-19 100

सतयुग दर्शन, नचौली 250

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, कौराली 30

लिग्याज यूनिवर्सिटी, नचौली 300

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, खेड़ीकलां 30

विद्या संस्कार स्कूल, जसाना 200

अल्पाइन वैली स्कूल, बल्लभगढ़ 250

वर्जन..

हमारी योजना है कि कोरोना के बढ़ते मामलों को नियंत्रित किया जाए। इसके तहत बिना लक्षण वाले मरीजों को अब घर की बजाय डेडिकेटेड कोविड केयर सेंटर में आइसोलेट किया जाएगा।

- रणदीप सिंह पूनिया, मुख्य चिकित्सा अधिकारी

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.