धरना स्थल पर काले कपड़ों में नजर आए युवक, महिलाएं

धरना स्थल पर काले कपड़ों में नजर आए युवक, महिलाएं

किसान आंदोलन के 100 दिन पूरे होने के अवसर पर संयुक्त किसान

JagranSun, 07 Mar 2021 08:36 AM (IST)

जागरण संवाददाता, चरखी दादरी: किसान आंदोलन के 100 दिन पूरे होने के अवसर पर संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर शनिवार को इलाके की विभिन्न खापों, किसान, मजदूर, व्यापारी और कर्मचारी संगठनों ने मिलकर काला दिवस मनाया। उन्होंने दादरी नगर के बस स्टैंड समीप रोजगार्डन से लेकर परशुराम चौक, आंबेडकर चौक होते हुए लाजपत राय चौक तक काले झंडे लहराते हुए जोरदार नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन में कई महिलाओं ने जहां काला सूट पहना हुआ था वहीं कई युवा काली ड्रेस में नजर आए।

बुजुर्ग किसानों ने हाथों पर काली पट्टियां बांधी तो कई नौजवानों ने माथे पर काला कपड़ा बांध रखा था। इससे पहले किसान सुबह 10 बजे से ही रोजगार्डन में एकत्रित होने शुरू हो गए थे। 11 बजे सभी प्रदर्शनकारी हाथों में काले झंडे उठाकर तीन काले कानून वापिस लो, मोदी सरकार होश में आओ, तानाशाही नहीं चलेगी के नारे लगाते हुए बस स्टैंड के सामने से होते हुए परशुराम चौक पहुंचे। जहां उन्होंने 10 मिनट तक चौक को घेरते हुए प्रदर्शन किया। उसके बाद भीमराव अंबेडकर चौक होते हुए लाला लाजपत राय चौक पहुंचे जहां वक्ताओं ने किसानों को संबोधित किया। पीड़ा समझने को तैयार नहीं सरकार: सोमबीर

इस मौके पर दादरी के विधायक सोमबीर सांगवान ने कहा कि कितना दुर्भाग्यपूर्ण है कि आंदोलन को शुरू हुए 100 दिन बीत गए हैं लेकिन सरकार किसानों मजदूरों की पीड़ा समझने को तैयार नहीं है। उन्होंने कहा कि हरियाणा विधानसभा के बजट सत्र में भाजपा सरकार को घेरने के साथ उनसे तीन काले कानूनों को लेकर सवाल जवाब किए जाएंगे। शांति को कमजोरी न समझा जाए: बलवंत

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए फौगाट खाप उन्नीस के प्रधान बलवंत नंबरदार ने कहा कि हम संयुक्त किसान मोर्चा के निर्देश पर किसी भी हद तक जाने को तैयार हैं। उन्होंने कहा कि सरकार हमारी शांति को कमजोरी समझने की कोशिश न करें। किसान नेता राजू मान ने कहा कि देशभर के युवा अपने बुजुर्गों के मार्गदर्शन में किसान आंदोलन में जुटे हुए हैं। उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन में देर लग सकती है लेकिन आखिर में जीत किसानों की होगी। ये रहे मौजूद

इस अवसर पर धर्मपाल महराणा, सुरेश फौगाट, राजबीर शास्त्री, प्रवीण चेयरमैन, रामकुमार कादयान, योगेश इमलोटा, रणधीर घिकाड़ा, विनोद मोड़ी, सूरजभान सांगवान, लीला समसपुर, ईश्वर रावलधी, अधिवक्ता वीरेन्द्र डूडी, कृष्ण फौगाट, राजकरण सरपंच, भूपेंद्र समसपुर, विद्यानंद कमोद, जयपाल सरपंच फौगाट, नरेश पहलवान, नत्थूराम, वजीर, लक्ष्मण फौगाट, कमलेश भैरवी, निर्मला देवी, राजेश जांघू, सत्यवान कालूवाला इत्यादि मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.