top menutop menutop menu

शारीरिक शिक्षकों ने प्रदर्शन कर किया कृषिमंत्री के निवास का घेराव

जागरण संवाददाता, भिवानी: शारीरिक शिक्षकों ने शनिवार को लघु सचिवालय से सेक्टर 13 तक जुलूस निकाला और प्रदर्शन करते हुए कृषि एवं पशुपालन मंत्री जेपी दलाल के निवास का घेराव किया। इसके बाद मंत्री की अनुपस्थिति में उनके पीए को अपनी बहाली का मांग पत्र सौंपा।

आंदोलनकारियों का नेतृत्व कर रहे हरियाणा शारीरिक शिक्षक संघर्ष समिति के जिला प्रधान दिलबाग जांगड़ा ने आरोप लगाया कि वर्ष 2010 में लगे 1983 शारीरिक शिक्षकों को सरकार ने घर का रास्ता दिखा दिया है। कर्मचारियों में सरकार के खिलाफ रोष है। उन्होंने कहा कि सरकार सबका साथ सबको रोजगार देने के नारे के साथ सत्ता में आई थी। आज 10 वर्ष से सेवाएं दे रहे शारीरिक शिक्षक बेरोजगार हो गए हैं। इसके चलते उनको आर्थिक तंगी का भी सामना करना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा कि जब तक सरकार उनको वापस सेवा में नहीं लेती, वो अपना आंदोलन जारी रखेंगे। उन्होंने कहा कि उनका आंदोलन प्रत्येक जिले में चला हुआ है।

जाटू खाप चौरासी के समर्थन पत्र के साथ अजीत घुसकानी, अमीर सिंह सरपंच तालू, सरपंच धनाना सुनीता, सरपंच धनाना-2 प्रेम सिंह, रमेश नीटू, सरपंच मुण्ढाल कलां प्रियंका शर्मा, बीडीसी दर्शन सिंह, एसडीसी सुरेश कुमार हेल्थ, कालीरमन खाप के प्रधान मीर सिंह, हरविद्र सिंह सरपंच कोंट, हरियाणा विद्यालय अध्यापक संघ से रामपाल सिंह, हजरस से लीलावती, बवानीखेड़ा हजरस से आजाद सिंह रंगा, रिटायर्ड पुलिस कर्मचारी संघ से हंसराज सिंह डीएसपी, जगबीर कासनिया, अशोक चाहर हरियाणा प्राइमरी टीचर एसोसिएशन, सुरेंद्र सिंह जेबीटी घुसकानी आदि ने हरियाणा शारीरिक शिक्षकों की बहाली की मांग की।

इस अवसर पर राजेश ढांडा, रामपाल, वीरेंद्र घणघस, बलवान डीपीई, सोमदत्त शर्मा, सुनील पीटीआइ, भूप सिंह डीपीई, रविद्र डीपीई, जोगेंद्र पीटीआइ, जयबीर पीटीआइ, पिकू तिगड़ाना, दयानंद, सरिता आदि कर्मचारी उपस्थित थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.