अब गांव के हर घर से उठेगा कूड़ा, पहले चरण में चार गांव शामिल

अब गांव के हर घर से उठेगा कूड़ा, पहले चरण में चार गांव शामिल
Publish Date:Thu, 24 Sep 2020 04:40 AM (IST) Author: Jagran

अमित धवन, हिसार

शहर की तर्ज पर गांव को भी स्वच्छ बनाने की तरफ कदम बढ़ने शुरू हो गया है। अब गांव में हर घर से कूड़ा उठाया जाएगा। कूड़ा उठाने का काम जिले के चार गांव में पायल्ट प्रोजेक्ट के रूप में शुरू हो चुका है। इसके साथ ही जिले की बाकी गांवों में भी यह काम अब जल्द शुरू होगा। कूड़ा उठाने के बाद उसको डंप करने के लिए एक एजेंसी को टेंडर दिए जाने की योजना है जो उसको गांव से दूर एक जगह ले जाएगी।

सरकार की तरफ से स्वच्छ भारत मिशन के तहत यह प्रोजेक्ट लांच किया है। इस प्रोजेक्ट के तहत अभी चार गांव दिनौद, खरकड़ी, राजपुरा आदि में किसी प्रकार से कोई पैसा नहीं लिया जा रहा है। यहां से घर से कूड़ा उठाने का काम शुरू हुआ है। इसके साथ ही अब बाकी पंचायतों में यह काम शुरू हो इसको लेकर योजना तैयार की जा रही है। जल्द ही इसको लेकर प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक होगी और उस को सिर चढ़ाने के लिए कदम बढ़ाए जाएंगे। यह रहेगी व्यवस्था

प्रशासन अभी निशुल्क घर से कूड़ा उठा रहा है। उसके तहत कूड़ा उठाकर एक जगह ले जाया जाता है। एजेंसी नहीं होने के कारण यह काम अभी पंचायत के जरिए ही करवाया जा रहा है। उसके लिए ट्रैक्टर-ट्राली और कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। इस कूड़ों को उठाकर एक जगह रखा जाता है और उसमें प्लास्टिक और गीला कूड़े को अलग कर दिया जाता है। बहल में पैसा लेने की शुरुआत

प्रशासनिक अधिकारियों की जाने तो बहल में कुछ घर और दुकानदारों से अभी कूड़ा ले जाने की योजना के तहत पैसा लेना शुरू किया गया है। यह भी प्रति घर 30 रुपये है। जबकि दुकानदार से करीब 40 रुपये हैं। यह पैसा लिए जाने के बाद उनको पूरी सुविधा दी जा रही है। यदि सब सही रहा तो आगे गांव में हर घर से पैसा लिया जाएगा और गांव को साफ सुथरा बनाने के लिए कदम उठाए जाएंगे। पंचायतों को दिया सरकार ने पैसा

पंचायत हर घर से कूड़ा उठाने के साथ उनको डंप करने पर काम कर सके इसको लेकर पंचायती राज के तहत पंचायतों को पैसा दिया जाएगा। यह पैसा 168 रुपये प्रति घर पूरे साल का पंचायतों के खातों में गया है। सभी पंचायतों के खाते में करोड़ों रुपये डाला गया ताकि वह कूड़ा उठाने की व्यवस्था को सुचारू रूप से शुरू कर सकें। चार गांव में पायलट प्रोजेक्ट चल रहा है। घर कूड़ा उठाने के साथ एक एजेंसी उस कूड़े को डंप करती है। स्वच्छ भारत मिशन के तहत गांव को स्वच्छ बनाना ही उनका मकसद है।

- अजय कुमार, उपायुक्त, भिवानी

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.