प्रधानमंत्री रिलीफ फंड से बनेगा लिक्विड ऑक्सीजन प्लांट

प्रधानमंत्री रिलीफ फंड से बनेगा लिक्विड ऑक्सीजन प्लांट

जिला के सिविल अस्पताल में प्रधानमंत्री रिलीफ फंड से लिक्विड ऑक्सीजन प्लांट बनाया जाएगा। इसकी रूपरेखा लगभग तैयार की जा चुकी है। ऑक्सीजन प्लांट की सौगात मिलने से जिला ऑक्सीजन आपूर्ति में आत्मनिर्भर बन सकेगा।

JagranMon, 10 May 2021 06:12 AM (IST)

जागरण संवाददाता, भिवानी : जिला के सिविल अस्पताल में प्रधानमंत्री रिलीफ फंड से लिक्विड ऑक्सीजन प्लांट बनाया जाएगा। इसकी रूपरेखा लगभग तैयार की जा चुकी है। ऑक्सीजन प्लांट की सौगात मिलने से जिला ऑक्सीजन आपूर्ति में आत्मनिर्भर बन सकेगा। यह बात जिला के कोविड आपदा प्रबंधन के समन्वयक एवं वरिष्ठ आइएएस अधिकारी नितिन यादव ने जिला स्तरीय अधिकारियों की एक वीडियो कांफ्रेंस को सम्बोधित करते हुए कही। वे जिला में कोविड महामारी से निपटने हेतु किए जा रहे कार्यो की समीक्षा कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि जिला को जल्द ही 30 के करीब ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मिल जाएंगे जिससे हमारा ऑक्सीजन लोड काफी कम हो जाएगा। उन्होंने कहा कि नर्सिग कालेज में पढ़ने वाले छात्रों के साथ-साथ विज्ञान संकाय से जुड़े विद्यार्थियों को भी कोविड महामारी से जुड़े अभियान से जोड़ना होगा ताकि हम अधिक से अधिक आबादी तक अपनी पहुंच बना सके और उन्हें सेवाएं दे सके। उन्होंने कहा कि यह बीमारी अपने पैर पसार रही है। इसे नियंत्रित करने के लिए हमे सरकारी तंत्र के साथ-साथ स्वयंसेवी संगठनों को भी जोड़ना होगा और उन्हें संसाधनों का प्रयोग जनहित में करना होगा। तभी हम इस लड़ाई को जीत सकते है।

उन्होंने कहा कि जो बड़े अस्पतालों में सभी संसाधन है उन्हें कोविड अस्पताल के रूप में विकसित करें। इसके लिए अप्रोवल कमेटी सारी आवश्यक कार्रवाई पूरी करने में ऐसे अस्पतालों की मदद करे। उन्होंने एसई पब्लिक हेल्थ को निजी अस्पतालों के साथ नोडल अधिकारी लगाने के भी निर्देश दिए। उन्होंने डीआइओ पंकज बजाज को कोविड संबंधित डेटा स्ट्रीम लाइन करने के निर्देश देते हुए कहा कि इससे प्लानिग और बेहतर तरीके से बनाई जा सकेगी। उन्होंने ग्रामीण ओर शहरी डेटा को अलग-अलग स्ट्रीमलाइन करने के लिए भी कहा।

जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के चेयरमैन राहुल नरवाल ने कहा कि प्रशासन होम आइसोलेटेड मरीजों को जरूरत पड़ने पर ऑक्सीजन की आपूर्ति तुरन्त करवा रहा है। इसके लिए 50 ऑक्सीजन सिलेंडर रेडक्रॉस संस्था के पास रखवा दिए है। इन्हें बांटने के लिए 30 वालेंटियर की ड्यूटी लगाई गई है और इस कार्य मे तीन नोन गवर्नमेंट आर्गेनाइजेशन का चयन किया गया है।

जिला कोविड समन्वयन के लिए नियुक्त अधिकारी दलजीत सिंह ने बताया कि उन्होंने पांच निजी अस्पतालों का दौरा करके वहां का ऑडिट किया। इस ऑडिट के आधार पर वे अस्पतालों की सुविधाओं को और बेहतर बनाया जाएगा। बैठक में सीटीएम हरबीर सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी सपना गहलावत, जिला राजस्व अधिकारी राजकुमार, डा. राजेश सहित अन्य अधिकारी व चिकित्सक उपस्थित थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.