पंचायत के अल्टीमेटम के बाद जांच सीआइए को

पंचायत के अल्टीमेटम के बाद जांच सीआइए को
Publish Date:Wed, 30 Sep 2020 05:30 AM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, भिवानी: गांव रेवाड़ी खेड़ा में 30 जुलाई को मकान में सेंधमारी कर तीन लाख रुपये नकद और 15 तोले सोना चोरी किए जाने के आरोपितों को करीब दो माह बाद काबू नहीं कर पाने पर से गुस्साए ग्रामीणों द्वारा पंचायत कर मंगलवार को एसपी को ज्ञापन सौंपा गया। ग्रामीणों ने आजाद सिंह के नेतृत्व में एसपी को ज्ञापन के माध्यम से चोरों को पकड़ने के लिए तीन दिन का अलटीमेटम दिया। इसके बाद एसपी ने पूरे मामले की जांच सीआइए को सौंप दी है।

गांव रेवाड़ीखेड़ा निवासी जगमाल सिंह के मकान में सेंध लगाकर चोर 30 जुलाई 2020 को तीन लाख रुपये नकद और करीब 15 तोले सोने के जेवरात चोरी कर ले गए थे। इस मामले में जिला पुलिस करीब दो माह का समय बीत जाने के बाद भी चोरों का कोई सुराग नहीं लग पाया है। 23 सितंबर बुधवार को इस प्रकरण को लेकर गांव में आजाद सिंह की अध्यक्षता में पंचायत भी हुई थी। पंचायत के बाद मंगलवार को ग्रामीणों ने एसपी को ज्ञापन सौंपा है। आजाद सिंह के नेतृत्व में एसपी को दिए ज्ञापन में पुलिस को चेतावनी दी गई कि तीन दिन के अंदर चोर नहीं पकड़े जाते है तो वह आंदोलन शुरू करेंगे। इस चेतावनी के बाद एसपी ने मामले की जांच सीआइए पुलिस को सौंप दी। साथ ही जल्द ही आरोपित पकड़े जाने का आश्वासन दिया। इस अवसर पर सरपंच जयभगवान, पूर्व सरपंच नरेश, साधु सिंह, नीर, सुभाष, देवेंद्र, बृजपाल, रामबीर ठेकेदार, जगमाल, महावीर शर्मा, डॉ. अशोक कुमार, दीपक, प्रीतम फौजी, एडवोकेट जगजीत, राजबीर जांगड़ा, जयबीर पंच, ओमपाल फौजी आदि उपस्थित थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.