खरकड़ी, बरालू, बुढ़ेड़ा, बारवास में चलते रहे किसानों के धरने

संवाद सहयोगी लोहारू लोहारू क्षेत्र के विभिन्न गांवों में किसान आंदोलन के पक्ष में धरने रविवा

JagranMon, 01 Feb 2021 06:50 AM (IST)
खरकड़ी, बरालू, बुढ़ेड़ा, बारवास में चलते रहे किसानों के धरने

संवाद सहयोगी, लोहारू : लोहारू क्षेत्र के विभिन्न गांवों में किसान आंदोलन के पक्ष में धरने रविवार को भी चलते रहे। प्रमुख तौर पर खरकड़ी, बरालू, बुढ़ेड़ा और बारवास गांवों में किसानों ने अपनी तादाद बढ़ाकर आंदोलन को अपनी ओर से गति देने का प्रयास किया। तीन कृषि कानूनों के विरोध में क्षेत्र के विभिन्न स्थानों से आए अनेक किसान लामबंद दिखाई दिए।

खरकड़ी गांव में धरना 36वें दिन में प्रवेश कर गया। यहां मलवाना जोहड़ में दो दर्जन गावों के सैकड़ो किसान पहुंचे। रविवार को धरने की अध्यक्षता धर्मपाल शर्मा ढिगावा श्यामियांन व जगदीश बारवास ने की। मंच संचालन सुनिल खरकड़ी ने किया। मंच से बोलते हुए किसानों ने कहा कि उनका आंदोलन अब सफलता के नजदीक है। किसानों की बढती भागीदारी देख सरकार भयभीत हो गई है। किसानों ने जो ²ढ संकल्प लिया है, उससे वे पीछे नहीं हटने वाले। अब हर हाल में तीन कृषि कानूनों को रद्द करके ही किसान अपनी खेती की ओर लौटेंगे। रविवार को प्रदीप मंढोली, कमल सिंह प्रधान, सदानन्द सरस्वती सहित अनेक किसानों व नेताओं ने धरने को सम्बोधित किया। मंच संचालक सुनील खरकड़ी ने बताया कि धरने पर चुन्नीलाल खरकड़ी, जयवीर सिघानी, राकेश सिघानी, अजित खरकड़ी सहित अनेक लोक कलाकारों ने गीतों के माध्यम से किसानों को सन्देश दिया। इस अवसर पर हनुमान राम सिघानी, सुमेर धनिया, सुमेर सिंह गोपलवास, धर्मपाल ढाना जोगी, सुमेर सिंह व जयवीर गोपालवास, हीरा सिंह झंझडा, मोहन सिंह खोरडा, सन्दीप डाडमा, नरेश सरपंच, कपिल झुम्पा, शीशराम ढाणी मनसुख, लीलाराम बारवास, ईश्वर बारवास, पतोरी, सुमन, जगमन्ती सहित अनेक किसान मौजूद थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.