मांगों को लेकर भाकियू ने विधायक नैना चौटाला को सौंपा ज्ञापन

मांगों को लेकर भाकियू ने विधायक नैना चौटाला को सौंपा ज्ञापन
Publish Date:Sat, 24 Oct 2020 07:35 AM (IST) Author: Jagran

संवाद सहयोगी, बाढड़ा : भाकियू की अगुवाई में किसानों ने शुक्रवार को बाढड़ा कस्बे में विधायक नैना चौटाला को ज्ञापन सौंप कर कृषि क्षेत्र में लागू तीन कानूनों को वापस लेने, रबी सीजन का मुआवजा वितरण करने, उपमंडल भवन निर्माण करवाने, डार्कजोन खत्म करने के लिए नहरी पानी में बढ़ोतरी, तहसीलदार व उपतहसीलदार की स्थायी नियुक्ति की मांग की। जिस पर विधायक ने भरोसा दिया कि आगामी दो सप्ताह में सभी चयनित किसानों के खातों में मुआवजा राशि भेज दी जाएगी।

भाकियू महासचिव हरपाल भांडवा की अगुवाई में विधायक नैना चौटाला से मिलने पहुंचे किसानों ने बताया कि बाढड़ा को भले ही उपमंडल का दर्जा मिला हो लेकिन अभी तक अधिकारियों के लिए भवन नहीं होने से तहसीलदार, उपतहसीलदार समेत 50 फीसद पद रिक्त हैं। इससे युवाओं को भर्ती, दाखिले व किसानों को भूमि कार्य के लिए भटकना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा कि सरकार किसान, गरीब, मजदूर, कर्मचारी व व्यापारी के हितों से खिलवाड़ कर रही है। इसे सहन नहीं किया जाएगा। भाकियू सरकार से पहले भी मांग करती रही है कि अनाज की खरीद पर एमएसपी को कमजोर न किया जाए। नैना चौटाला ने कहा कि उपमंडल स्तर पर सोमवार से नया तहसीलदार कार्यभार संभाल लेगा वहीं बाजरा खरीद की राशि अगले 48 घंटे में सभी किसानों को भेज दी जाएगी। उन्होंने दावा किया कि किसान के अनाज का एक एक दाना खरीदा जाएगा। पहले के समय बाढड़ा व दादरी में मात्र दो जगह बाजरे की खरीद होती थी लेकिन अब की बार जिले में लगभग दस स्थानों पर खरीद हो रही है तथा आगामी दो दिन बाद प्रतिदिन 1500 किसानों का प्रतिदिन बाजरा खरीद करवाने की योजना पर काम चल रहा है।

जजपा जिलाध्यक्ष नरेश द्वारका की अपील पर उन्होंने किसान भवन में दो नए कमरों का निर्माण करवाने की घोषणा की। इस मौके पर भाकियू नेता रणधीर हुई, पूर्व सरपंच गिरधारी मोद, सरपंच नरेश गोपालवास, प्रेम भारीवास, मंगलाराम सरपंच भी मौजूद रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.