सीनियर सेकंडरी पूरक परीक्षा में नकल के 12 मामले दर्ज

सीनियर सेकंडरी पूरक परीक्षा में नकल के 12 मामले दर्ज
Publish Date:Sat, 31 Oct 2020 04:20 AM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, भिवानी

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड द्वारा प्रदेशभर में संचालित करवाई जा रही सीनियर सेकंडरी (शैक्षिक/मुक्त विद्यालय) पूर्ण विषय अंक सुधार, आंशिक अंक सुधार, री-अपीयर व अतिरिक्त विषय (भौतिकी विज्ञान-अर्थशास्त्र विषय) एवं डीएलएड प्रथम वर्ष (नियमित-री-अपीयर) डी-102- एजुकेशन, सोसाइटी, करिकुलम एंड लर्नर विषय की अक्टूबर-2020 परीक्षा में नकल के 30 मामले दर्ज किये गये। जिसमें सीनियर सेकंडरी के 12 व डीएलएड के 18 नकल के केस शामिल है।

बोर्ड प्रवक्ता ने बताया कि बोर्ड अध्यक्ष डा. जगबीर सिंह के उड़नदस्ते द्वारा जिला महेन्द्रगढ़ के परीक्षा केन्द्रों का निरीक्षण किया तथा नकल के 2 केस दर्ज किए गए। उन्होंने आगे बताया कि बोर्ड सचिव राजीव प्रसाद के उड़नदस्ते द्वारा जिला चरखी दादरी के परीक्षा केन्द्रों का औचक निरीक्षण किया तथा नकल के 2 केस दर्ज किए गए।

उन्होंने आगे बताया कि नकल पर अंकुश लगाने के लिए बोर्ड अध्यक्ष के स्पेशल उड़नदस्तों द्वारा सभी जिलों का निरीक्षण किया गया। जिसमें जीन्द, नारनौल, रोहतक एवं नूंह के परीक्षा केंद्रों में नकल के 6 केस पकड़े। बोर्ड सचिव के स्पेशल उड़नदस्तों द्वारा सभी जिलों का निरीक्षण किया गया। जिसमें हिसार, जीन्द, पानीपत एवं नूंह के परीक्षा केन्द्रों में नकल के 6 केस पकड़े। उन्होंने बताया कि रैपिड एक्शन फोर्स द्वारा नकल के 4 मामले दर्ज किए गए तथा अन्य उड़नदस्तों द्वारा अनुचित साधन के 10 मामले पकड़े। उन्होंने आगे बताया कि सेकंडरी (शैक्षिक-मुक्त विद्यालय) परीक्षा में करीब 1705 परीक्षार्थी प्रविष्ठ हुए। उनके लिए प्रदेशभर में स्थापित 22 परीक्षा केन्द्र बनाए गए। इसी प्रकार डीएलएड (नियमित/री-अपीयर) परीक्षा में लगभग 14 हजार 724 छात्र-अध्यापक प्रविष्ठ हुए, जिनके लिए प्रदेशभर में 93 परीक्षा केन्द्र बनाए गए।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.