top menutop menutop menu

चार दिन में पकड़े बिजली चोरी के 33 मामले, साढ़े 18 लाख जुर्माना

जागरण संवाददाता, बहादुरगढ़ : बिजली चोरी रोकने के लिए निगम ने मुहिम तेज कर दी है। शहर में दिन-रात छापेमारी की जा रही है। ऐसे में चार दिन के अंदर बिजली चोरी के शहर के दोनों उपमंडल क्षेत्र में कुल 33 मामले पकड़े गए हैं। इनमें से कुछ तो शनिवार को ही पकड़े गए। सभी मामलों को मिलाकर साढ़े 18 लाख जुर्माना किया गया है।

दरअसल, इन दिनों बिजली की ओवरलोडिग बढ़ रही है। इसका प्रमुख कारण निगम बिजली चोरी को ही मान रहा है। ओवरलोडिग के कारण फाल्ट भी आ रहे हैं। ऐसे में निगम ने बिजली चोरों पर शिकंजा कस दिया है। शनिवार को निगम के शहरी उपमंडल की टीम ने शक्ति नगर, आर्य नगर में बिजली चोरी के चार मामले पकड़े। यहां 1 लाख 20 हजार का जुर्माना किया। जबकि शहरी उपमंडल-द्वितीय व रोहतक विजिलेंस की संयुक्त टीम ने मिलकर चार दिन में बिजली चोरी के 15 मामले पकड़े। उन पर करीब साढ़े 7 लाख का जुर्माना लगाया गया। अब तक केवल दो लोगों ने जुर्माना अदा किया है। यह 70 हजार रुपये है। एसडीओ उमेद सिंह ने बताया कि बिजली चोरी करने वालों के खिलाफ ऑनलाइन शिकायत भी दर्ज की जा रही है। शहरी उपमंडल प्रथम में चार दिन में 18 मामले पकड़े

दूसरी ओर शहरी उपमंडल-प्रथम की टीम ने चार दिनों के अंदर बिजली चोरी के 18 मामले पकड़े गए हैं। इनमें 11 लाख रुपये जुर्माना किया गया है। इनमें से पौने तीन लाख रुपये की रिकवरी हुई है।

बिजली चोरी करने वालों के खिलाफ अभियान लगातार जारी है। दिन-रात निगम की टीमें छापे मार रही हैं। लोड के हिसाब से जुर्माना किया जा रहा है। बिजली चोरी के चलते वोल्टेज कम-ज्यादा होने की शिकायतें भी निगम को मिल रही हैं।

- अजय कुमार, एसडीओ, बिजली निगम।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.