दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

दिन भर छाए रहे बादल, 21 मई तक रह सकती है उठापटक

दिन भर छाए रहे बादल, 21 मई तक रह सकती है उठापटक

मौसम का मिजाज सोमवार को अनिश्चतता के साये में रहा। दिन भर आसमान बादलों से ढका रहा। हालांकि बारिश नहीं हुई।

JagranTue, 18 May 2021 07:40 AM (IST)

जागरण संवाददाता, बहादुरगढ़ :

मौसम का मिजाज सोमवार को अनिश्चतता के साये में रहा। दिन भर आसमान बादलों से ढका रहा। हालांकि बारिश नहीं हुई। मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि अभी एक-दो दिन मौसम में उठापटक रह सकती है। बारिश की भी संभावना बनी रहेगी। गौरतलब है कि मई की शुरूआत से ही मौसम रह-रहकर बदल रहा है। बीच-बीच में बारिश हुई है। छिटपुट ओले भी गिरे। इसी वजह से इस बार मई में तापमान ज्यादा नहीं बढ़ पाया है। मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि 21 मई तक बरसात के प्रबल आसार हैं। इधर, मौसम में इस बदलाव का बेल फसलों पर असर पड़ रहा है। इस समय पर बारिश के कारण इन फसलों में नुकसान हो रहा है। खेती का बाकी जो रकबा खाली है, उसमें बारिश से फायदा पहुंच रहा है। बुधवार को 30 डिग्री से भी नीचे तापमान आने की उम्मीद

जागरण संवाददाता, झज्जर : लगातार पड़ रही गर्मी के बीच मंगलवार से राहत भरा समाचार मिल सकता है कि आने वाले तीन दिनों तक बरसात होने की संभावनाएं हैं। जिसमें अधिकतम एवं न्यूनतम तापमान में भी गिरावट आएगी। इधर, बुधवार को तो अधिकतम तापमान 30 डिग्री से भी कम रह सकता है। जिससे हर वर्ग को फायदा होगा। खास तौर पर किसानों को। उधर, गर्मी का मौसम और कोरोना की वजह से एसी और कूलर चलाने से भी परहेज कर रहे लोगों को भी राहत मिलेगी। क्योंकि, 40 डिग्री से अधिक रहने वाले तापमान की वजह से लोगों की दिनचर्या जरूर प्रभावित हो रही है। जबकि, कृषि विभाग की ओर से मौसम के मद्देनजर किसानों को नरमा की बिजाई रोकने की सलाह दी गई है। एसी चलाने से परहेज कर रहे लोग : कोरोना की दूसरी लहर में जिस तरह से संक्रमण बढ़ रहा है और एहतियात बरतने की सलाह दी जा रही है, को मद्देनजर रखते हुए लोग एसी और कूलर चलाने से भी परहेज कर रहे हैं। साधारण पंखा चलाकर लोग अपना समय व्यतीत कर रहे हैं। तापमान अधिक होने की स्थिति में भी उन्हें राहत नहीं मिल पा रही। क्योंकि, संकट के इस समय में तापमान को बनाए रखने सहित अन्य तरह की सावधानियां बरती जा रही हैं। ऐसी स्थिति में उन सभी लोगों को विशेष राहत मिलेगी। जो कि एसी आदि का इस्तेमाल नहीं कर रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.